रुसी सेना से मुकाबला करने के लिए 66 हजार से ज्यादा लोग विदेश से लौटे यूक्रेन

रुस का यूक्रेन पर हमला जारी है। रुस पीछे हटने का नाम नहीं ले रहा है। सैनिकों समेत सैंकड़ों लोग मारे गए हैं। रूसी सेना से लड़के के लिए अब यूक्रेन की सेना और यूक्रेन के लोग डटकर मुकाबला करने आगे आ रहे हैं।

बता दें कि इस बीच यूक्रेन के रक्षा मंत्री ओलेक्सी रेजनिकोव ने दावा किया है कि रूस के आक्रमण के खिलाफ लड़ाई में शामिल होने के लिए 66,224 यूक्रेनी लोग जिनमे पुरुष शामिल हैं, विदेश से लौटे हैं। रेजनिकोव ने एक ऑनलाइन पोस्ट में कहा कि इस समय इतने सारे लोग अपने देश को भीड़ से बचाने के लिए विदेश से लौटे हैं। ये 12 और लड़ाकू व प्रेरित ब्रिगेड हैं! यूक्रेनियन, हम अजेय हैं।”

वहीं, रूसी सेना शनिवार से यूक्रेन के दो क्षेत्रों में संघर्ष-विराम पर सहमत हो गई है, ताकि वहां फंसे नागरिकों को सुरक्षित निकाला जा सके। रूस की सरकारी न्यूज एजेंसियों ने यह जानकारी दी। आरआईए नोवोत्सी और तास न्यूज एजेंसी ने रूसी रक्षा मंत्रालय की ओर से जारी एक बयान के हवाले से बताया कि मॉस्को यूक्रेनी बलों के साथ कुछ निकासी मार्गों पर संघर्ष-विराम के लिए सहमत हो गया है, ताकि नागरिकों को दक्षिण-पूर्व में रणनीतिक लिहाज से अहम बंदरगाह शहर मारियुपोल और पूर्वी शहर वोल्नोवाखा से सुरक्षित निकालने में मदद मिल सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here