किचन से टमाटर हुआ गायब, बिक रहा 100 रुपये किलो तक, ये है कारण, कब तक कम हो सकते हैं दाम?

टमाटर औऱ लाल हो गया है। किचन से टमाटर कुछ समय से गायब हो गया है। लोगों एक टमाटर का यूज दो बार सब्जी बनाने में कर रहे हैं क्योंकि टमाटर हो गया है 100 के पार,….कई जगहों पर टमाटर 120 और कहीं 100 रुपये किलो बिक रहा है तो कहीं 70,80,90 रुपये किलो भी बिक रहा है।

जनता उम्मीद लगाए बैठी है कि पेट्रोल के दाम जहां घटाएं गए हैं वहीं अब सब्जी के दामों में भी गिरावट आएगी लेकिन सब्जी खाना हरकिसी के बसकी बात नहीं रह गई है। लेकिन खबर है कि टमाटर जनवरी-फरवरी तक सस्ते हो सकते हैं। थोक सब्जी कारोबारियों के अनुसार टमाटर की नई फसल 15 अक्टूबर को लगाई गई थी, जिसे तैयार होने में कम से कम 3 महीने का समय लगेगा। ऐसे में उम्मीद है कि जनवरी-फरवरी तक टमाटर के दाम घट सकते हैं।

ये है टमाटर के महंगे होने का कारण

आपको बता दें कि इस सीजन में टमाटर का रेट 20 से 30 रुपये प्रति किलो रहता है। वहीं ये 100 रुपये किलो से भी ऊपर बिक रहा है। बताया जा रहा है कि टमाटार की ज्यादातर सप्लाई दक्षिणी राज्यों से हो रही है और इन राज्यों में बारिश के कारण फसल को काफी नुकसान हुआ है और यही वजह है कि टमाटर के दाम आसमान छू रहे हैं।  इसकी एक दूसरी वजह यह भी है कि शादियों के सीजन के चलते टमाटर की मांग बढ़ी है जिस कारण दामों में बढ़ोतरी हुई है।

महंगे हो सकते हैं टमाटर

आजादपुर मंडी के थोक सब्‍जी व्‍यापारियों ने कहा है कि दक्षिण भारत में अगर इसी तरह से बारिश जारी रही तो टमाटर के दाम और बढ़ सकते हैं। उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय के 167 केंद्रों के आंकड़ों के अनुसार, राजधानी दिल्ली में टमाटर 72 रुपये प्रति किलोग्राम के भाव बिक रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here