उत्तराखंड: इस जिले में इन कर्मचारियों को नहीं मिलेगी रविवार की छुट्टी, ये है कारण

देहरादून: उत्तराखंड विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर निर्वाचन आयोग ने कमर कस ली है। प्रदेश में अगले महीने यानि जनवरी में चुनाव की तारीखों की घोषणा हो सकती है। ऐसे में राजनीति दलों के साथ चुनाव आयोग ने भी अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं। देहरादून के जिला निर्वाचन कार्यालय में इन दिनों कर्मचारी दिन-रात चुनावी तैयारियों में जुटे हुए हैं। चुनाव को देखते हुए कर्मचारियों की रविवार की छुट्टी निरस्त कर दी गई है।

मतदाता पहचान पत्र भी पैन कार्ड की तर्ज पर डाक के जरिए भेजे जाएंगे। इस प्रक्रिया में मतदाता का पता भी स्वतः प्रमाणित हो जाएगा। हर रोज 10 हजार वोटर आईडी कार्ड डिस्पैच करने का लक्ष्य दिया गया है। साथ ही पोस्ट ऑफिस को भी रविवार के दिन खोलने को कहा गया है। नए वोटरों को दिए जाने वाले कार्ड में जन-जागरूकता के साथ ही बीएलओ का नम्बर आदि भी उपलब्ध करवाया जा रहा है।

देहरादून के जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. आर राजेश कुमार ने अधिकारियों और कर्मचारियों को समय से काम पूरा करने और व्यवस्थाओं में तेजी लाने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा जिलाधिकारी ने सभी जोनल व सेक्टर अधिकारियों को निर्देशित किया कि सभी अधिकारी जल्द अपने अधीन सभी मतदान केन्द्रों का निरीक्षण करें। निरीक्षण के दौरान अधिकारी भवन की स्थिति, पेयजल, शौचालय, रैंप, विद्युत, मोबाइल कनेक्टिबिटी, शेड, आवश्यक फर्नीचर, सुगम आवागमन और सुरक्षा इत्यादि संबंधित एएमएफ (एश्योर्ड मिनिमम फैसिलिटी) अर्थात बुनियादी सुविधाओं की निर्धारित प्रारूप में सूचना उपलब्ध कराएंगे।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने जिले की 10 विधानसभा सीटों के लिए तैनात 37 जोनल मजिस्ट्रेट और 218 सेक्टर अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया। जिला निर्वाचन अधिकारी आर राजेश कुमार ने बताया कि, प्रदेश में सबसे ज्यादा 1 लाख नये वोटर देहरादून जनपद में बने गए हैं, जिनके कार्ड छपवा कर उनके पते पर भेजे जा रहे हैं। इसके लिए कर्मचारियों की रविवार की छुट्टी निरस्त करते हुए प्रतिदिन 10 हजार कार्ड डिस्पैच करने का लक्ष्य दिया गया है। साथ ही पोस्ट ऑफिस को भी रविवार के दिन खोलने को कहा गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here