ऋषिकेश : मासूम बच्चों की आड़ में पिता मांग रहा था भीख, पुलिस ने हिरासत में लिया

ऋषिकेश : उत्तराखंड में भिक्षावृत्ति की रोकथाम के लिए पुलिस अभियान चलाए है। वहीं विशेष मानव तस्करी रोकथाम इकाई और पुलिस ने नागरिकों की शिकायत पर ऋषिकेश से मासूम बच्चों की आड़ में भीख मांगने वाले पिता को हिरासत में लिया है। साथ ही टीम ने दोनों मासूम बच्चों को भी अपने कब्जे में ले लिया है।

चाइल्ड हेल्पलाइन के सदस्य हेमंत कुमार कुमार ने बताया कि ऋषिकेश के अधिवक्ता अमित वत्स ने सूचना दी थी कि एक व्यक्ति अक्सर नशा करता है और साथ ही अपने दो मासूमों की आड़ में ऋषिकेश के त्रिवेणी घाट और आसपास के क्षेत्र में भीख मांगता है। बच्चों की परवारिश भी ठीक से नहीं करता बल्कि बच्चों की आड़ में भीख मांगता है। शिकायत पर एक्शन लेते हुए टीम ने मंगलवार को ऋषिकेश में चाइल्ड हेल्पलाइन की सदस्य ऋषिकेश प्रभारी रचना, यशवीर रावत ,नीलम चौहान और पुलिसकर्मी मनवीर शाह, धर्मेंद्र कुमार, रैना रावत की मदद से नगर के विभिन्न क्षेत्रों में त्रिवेणी घाट, मेल बाजार और हरिद्वार मार्ग पर छापेमारी की।

छापेमारी में पाया गया कि एक ढाई साल की मासूम बच्ची और 8 महीने के बच्चे के साथ सड़क के किनारे बिछी चादर पर बैठे थे। जिनको लोग पैसे देकर जा रहे थे। टीम ने व्यक्ति को हिरासत में लेने के लिए इंतजार किया और जैसे ही वो व्यक्ति आया टीम ने उसे हिरासत में लिया। चाइल्ड हेल्पलाइन के सदस्य हेमंत कुमार कुमार ने बताया कि उक्त व्यक्ति ने पूछताछ में अपना नाम सूरज निवासी ईसापुर तहसील, तिलहर निगोही जिला शाहजहांपुर बताया। पूछताछ में व्यक्ति ने बताया कि ये दोनों बच्चे उसी के हैं। करीब 2 महीने पहले इन बच्चों की मां का बीमारी के चलते निधन हो गया था। वो बच्चों के साथ भिक्षावृत्ति कर सड़क पर ही सोता है।

ॉधीमान ने बताया कि बरामद दोनों बच्चों को बाल कल्याण समिति को देखभाल के लिए सौंपा जा रहा है। जबकि हिरासत में लिए गए सूरज को बुधवार को सक्षम मजिस्ट्रेट के सम्मुख अग्रिम कार्रवाई के लिए पेश किया जाएगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here