खाली कराया जाएगा मरोड़ा गांव, दरारें और गिरते घरों के चलते फैसला

maroda village in uttarakhand tunnelउत्तराखंड में ऋषिकेश कर्णप्रयाग रेल लाइन की वजह से एक पूरा गांव खाली कराया जा रहा है। मरोड़ा गांव को पूरी तरह खाली कराया जाएगा। इस गांव में मकानों में बड़ी बड़ी दरारें आ गईं हैं।

दरअसल रुद्रप्रयाग के अगस्त्यमुनि ब्लाक के मरोड़ा गांव में बड़े पैमाने पर घरों में दरारें आ गईं हैं। जोशीमठ में भू-धंसाव की घटना सामने आने के बाद रुद्रप्रयाग के मरोड़ा गांव में आई मकानों की दरारें मीडिया की सुर्खियों में आईं। मीडिया में खबरें आने के बाद शासन प्रशासन जागा और इस गांव की सुध ली गई।

मरोड़ा गांव में कई घरों में दरारें आईं हुईं हैं। पूरा गांव रेल परियोजना से प्रभावित है। मरोड़ा गांव का जल्द ही विस्थापन किया जाएगा। प्रशासन को प्रभावितों को मुआवजा देने के लिए 21 करोड़ रुपए मिल गए हैं। ये धनराशि रेलवे ने दी है।  गांव में रहने वाले सभी 70 परिवारों को मुआवजे के तौर पर बांटे जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here