जरा संभलकर : रेड लाइट जंप किया तो सीधे घर पहुंचेगा चालान, पुलिस ने शुरु किया मिशन

यातायात नियमों का उल्लंघन करना अब भारी पड़ेगा। जी हां बता दें कि पुलिस अब नियमों का उल्लंघन करने वालों को बख्सने के मूड में नहीं है। पुलिस की मशीन में वाहन का नंबर प्लेट कैमरे में कैद हो जाएगा। रेड लाइट जंप किया तो सीधे घर पर चालान पहुंचेगा। क्योंकि अक्सर देखा जाता है कि कई वाहन चालक बिन ग्रीन सिग्नल के ही क्रॉस कर जाते हैं जिससे कभी कभी जाम की स्थिति बन जाती है तो कभी हादसा हो जाता है और हादसे का खतरा रहता है।  इसी को देखते हुए अब रेड लाइट जंप करने वालों पर मेरठ समेत यूपी पुलिस ने शिकंजा कसना शुरु कर दिया है।

आपको बता दें कि  इंटेलीजेंट ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम के तहत शहर में कंपनी ने काम शुरू कर दिया है। 31 दिसबंर तक प्रोजेक्ट के काम पूर्ण करने लक्ष्य रखा गया है। प्रोजेक्ट का काम जापानी कंपनी एनईसी कॉरपोरेशन इंडिया प्रा.लि. को दिया गया है।

मेरठ जिले में कंपनी ने पिछले महीने सर्वे का काम पूरा कर लिया था। अब कंपनी की टेक्निकल टीम ने चौराहों पर ऑप्टिकल फाइबर केबल (ओएफसी) लगाना शुरू कर दिया है। ओएफसी से ही ट्रैफिक मैनेजमेंट के सारे सिस्टम जोड़े जाएंगे। स्मार्ट सिटी योजना के तहत शहर के नौ चौराहों पर आईटीएमएस चालू करने के लिए कंपनी एनईसी ने कार्रवाई शुरू कर दी है। आईटीएमएस के लिए नगर निगम में जहां अस्थायी कंट्रोल रूम का निर्माण अंतिम चरण में है। नगर निगम के एक्सईएन का कहना है कि 31 दिसंबर तक ट्रैफिक मैनेजमेंट को लेकर चौराहों को तैयार कर देना है। नगर निगम कंपनी से हर दिन की अब रिपोर्ट ले रहा है। कमिश्नर सुरेंद्र सिंह लगातार कंपनी और निगम के अधिकारियों से रिपोर्ट ले रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here