मिलीभगत से नहीं रुक रहे जमीन पर अवैध कब्जे


राजधानी दून में रोक के बावजूद भी जमीन पर अवैध कब्जा करने के मामले कम नहीं हो रहे हैं। ऐसा ही एक मामला देहरादून के रायपुर इलाके के चाय बागान की जमीन पर अवैध कब्जा करने का आ रहा है। जिस पर मामले की शिकायत पर अब कार्रवाई के आदेश दे दिए गए हैं।

राजधानी देहरादून के रायपुर इलाके के चाय बागान की जमीन पर अवैध कब्जा करने का मामला सामने आ रहा है। इस मामले में शिकायत के बाद एडीएम कोर्ट ने एसडीएम सदर को कार्रवाई करने के आदेश दे दिए हैं।

गौरतलब है कि मौजा रायपुर, लाडपुर, नत्थनपुर और चकरायपुर में चाय बागान की जमीन पर अतिक्रमण का मामला हाईकोर्ट में चल रहा है। जिसमें कोर्ट के आदेश पर कई जगह से अवैध कब्जे हटा दिए गए थे। लेकिन हाल ही में प्रशासन को मौजा रायपुर, लाडपुर और नत्थनपुर में फिर से अवैध कब्जे सहित खरीद-फरोख्त करने की शिकायत मिली है, साथ ही कई जगह निर्माण कार्य चल रहे थे। जबकि एक जगह खनन सामग्री के कारोबार की भी शिकायत मिली है।

वहीं छह नंबर पुलिया के पास भी अवैध निर्माण शिकायत आई है। ऐसा माना जा रहा है कि ये अवैध कब्जे कुछ कर्मचारियों और भूमाफियों की मिली भगत से हो रहा है। इस मामले में एडीएम कोर्ट ने एसडीएम सदर को एक सप्ताह में जांच कर अतिक्रमण हटाने के आदेश दिए हैं।

होटल को नोटिस जारी

जिला प्रशासन ने कार्रवाई करते हुए लाडपुर स्थित एक होटल को नोटिस भेजा है। जमीन की जांच करते हुए प्रबंधक को पांच नवंबर को एडीएम कोर्ट में कागजात पेश करने के आदेश दिए हैं। लाडपुर में चाय बागान की जमीन पर अवैध कब्जे की जांच चल रही है।

इस मामले में एडीएम शिव कुमार बरनवाल की कोर्ट से होटल प्रबंधक के नाम नोटिस जारी किया गया है। जिसमें कहा गया है कि लाडपुर में जिस खसरा नंबर पर होटल चल रहा है, वह चाय बागान की जमीन है और सीलिंग एक्ट के तहत सरकार के क्षेत्र में आती है। इसलिए होटल प्रबंधक को स्वामित्व से जुड़े कागजातों के साथ पांच नवंबर को एडीएम कोर्ट में पेश होने को कहा गया है, जिससे पता चल सके कि जमीन पर अतिक्रमण हुआ या नहीं। साथ ही, तारीख पर पेश न होने पर कार्रवाई की चेतावनी दे दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here