हरीश रावत ने की अपील, कहा- मेरे साथ सेल्फी ना लें, हाथ मिलाना मेरा स्वभाव

देहरादून : उत्तराखंड में एक बार फिर से कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए नियम सख्त कर दिए गए हैं। नई एडवाइजरी भी शासन द्वारा जारी कर दी गई है। पर्यटक स्थलों पर सख्ती बढ़ा दी गई है। साथ ही बॉर्डरों पर भी चेकिंग का दायरा बढ़ा दिया गया है। एक बार फिर से नियम सख्त कर दिए गए हैं। इस बीच कोरोना से संक्रमित हो चुके पूर्व सीएम हरीश रावत ने अपने प्रशंसकों से खास अपील की है।

हरीश रावत ने सोशल मीडिया के जरिए लिखा कि मैं एक गंभीर बात अपने संबंध में आपसे कहना चाहता हूंँ। आप सबको मालूम है कि मैं पहले गंभीर रूप से कोरोना संक्रमित भी हुआ हूँ और उम्र भी 70 के पार हो गई है। कोरोना का जो दौर इस समय चल रहा है, इसमें मुझे अपना बचाव करना भी आवश्यक है और आप सब जो मुझसे मिलते रहते हैं, हजारों लोग मिलते हैं उनका बचाव करना भी आवश्यक है उसके लिए एक तो जब भी, जो लोग भी मुझसे बात करें जरा मास्क लगाकर के बात करें, क्योंकि लोग मुंह के नजदीक आकर के बात करते हैं।

हरीश रावत ने लिखा कि मैं उनकी भावना का सम्मान करता हूंँ। लेकिन यदि मास्क लगाकर के बात करें तो उनकी भी सुरक्षा है और मेरी भी सुरक्षा है। दूसरा हाथ मिलाना मेरा स्वभाव है और मुझे बहुत दु:ख होता है, जब मैं किसी से हाथ नहीं मिला पाता हूंँ। लेकिन कोरोना ने हाथ मिलाना वर्जित कर दिया है। कोरोना काल में सेल्फी सबसे खतरनाक हो रही है, तो मैं अपने दोस्तों और सबसे कहना चाहूंगा जो मेरे शुभचिंतक हैं, कृपया सेल्फी से बचें, दूर से जहां भी कहेंगे मैं उनके साथ फोटो खिंचवाना अपने लिए गौरव की बात समझूंगा। मुझे उम्मीद है कि मेरी इस विनती पर मेरे शुभचिंतक व प्रशंसक, सब ध्यान देंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here