हरिद्वार वन प्रभाग के नए DFO के खिलाफ धरने पर वनकर्मी, किया कार्य बहिष्कार, लगाया ये आरोप

हरिद्वार : एक तरफ लैंसडॉन वन प्रभाग से हटाए गए और देहरादून मुख्यालय में अटैच किए गए डीएफओ दीपक सिंह ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोला हुआ है तो वहीं दूसरी ओर हरिद्वार वन प्रभाग के नए डीएफओ धर्मसिंह मीणा के खिलाफ वनकर्मी ही मुखर हो गए हैं। बता दें कि नए डीएफओ के कार्यभार संभालने के कुछ ही दिनों में ही वह विवादों में घिर गए हैं. हरिद्वार वन प्रभाग में कार्यरत कर्मचारी अपने नए डीएफओ की कार्यशैली से खासा नाराज दिखाई दे रहे हैं जिसके चलते पिछले 15 दिनों से कर्मचारियों ने उत्तरांचल फॉरेस्ट मिनिस्ट्री एसोसिएशन के बैनर तले वन प्रभाग हरिद्वार के डिवीजन कार्यालय के बाहर डीएफओ के खिलाफ धरना प्रदर्शन किया। प्रदेश सरकार से डीएफओ के ट्रांसफर की मांग की अन्यथा आगे उग्र प्रदर्शन करने की बात भी कही।

वन प्रभाग में स्थानांतरित होकर आए हरिद्वार वन प्रभाग में नए डीएफओ धर्म सिंह मीणा, कार्यालय के कर्मचारियों से गलत व्यवहार के कारण, कर्मचारियों के निशाने पर आ गए हैं। वन विभाग में कार्यरत कर्मचारियों ने पिछले 15 दिनों के कार्य बहिष्कार करते हुए वन प्रभाग के गेट पर डीएफओ के खिलाफ मोर्चा खोल दिया।

प्रदर्शन कर रहे हैं वन विभाग के कर्मचारी शेखर चंद्र जोशी का कहना है कि डीएफओ धर्म सिंह मीणा द्वारा जब से कार्यभार संभाला गया है तभी से वे कार्यालय के कर्मचारियों के साथ अभद्र व्यवहार करते चले आ रहे हैं और उन पर अनर्गल आरोप भी लगा रहे हैं जिसको विरोध में आज उन्होंने उत्तरांचल फॉरेस्ट मिनिस्ट्रियल एसोसिएशन के बैनर तले लगातार धरना प्रदर्शन किया जा रहा है जिसमें उन्होंने कहा है कि उनके द्वारा 15 दिन का कार्य बहिष्कार किया गया है और शासन को चेतावनी दी है कि डीएफओ के व्यवहार में बदलाव नहीं आता है या फिर शासन द्वारा उनका स्थानांतरण नहीं किया जाता है तो एसोसिएशन द्वारा उग्र आंदोलन भी किया जाएगा, जिसकी सारी जिम्मेदारी शासन की होगी। मौके पर सेवानिवृत्त कर्मचारियों द्वारा भी समर्थन दिया जा रहा है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here