किच्छा चीनी मिल में 36 घंटे से पेराई ठप, किसानों को भारी नुकसान : पूर्व दर्जा राज्यमंत्री

उधमसिंह नगर : किच्छा चीनी मिल पेराई सत्र में लगातार आ रही तकनीकी दिक्कतों से बार बार पेराई बाधित होने को चीनी मिल अधिशासी निदेशक रुचि मोहन रयाल ने बेहद गम्भीरता से लिया है। उन्होंने चीनी मिल इंजीनियर को तकनीकी दिक्कतों व बॉयलर दीवार को जल्द से जल्द ठीक करने के कड़े निर्देश दिए हैं।

उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि चीनी मिल में लगभग 60 साल पुरानी मशीनों में अचानक कुछ तकनीकी दिक्कतें आ ही जाती है। मिल के आधुनिकीकरण के लिए सरकार को समय समय पर प्रस्ताव भेजे गये हैं।मिल को कम संसाधनों में बेहतर तरीकों से चलाये जाने के प्रयास किये जा रहे हैं। सभी तकनीकी दिक्कतों को दूर कर मिल जल्द ही चालू कर दी जायेगी। अभी तक चीनी मिल में लगभग 7.40 लाख कुंतल गन्ने की पेराई कर चुकी है। उन्होंने किसानों को भरोसा दिलाया कि चीनी मिल अपने लक्ष्य को तय समय पर पूरा कर लेगी।

वहीं चीनी मिल की बॉयलर दीवार गिरने से 36 घंटे से ठप पड़ी मिल से किसानों और मिल को हुए नुकसान की जानकारी लेने पहुंचे पूर्व दर्जा राज्यमंत्री गणेश उपाध्याय ने अधिशासी निदेशक रुचि मोहन रयाल से मुलाकात करते हुए जल्द ही तकनीकी दिक्कतों को ठीक करने की मांग की। उन्होंने मिल का निरीक्षण करते हुए तकनीकी जानकारी जुटाते हुए मिल कर्मचारियों से बातचीत भी की। उन्होंने कहा कि गन्ने पेराई की दिक्कतों से गेहूं फसल की बुवाई में देरी हो रही है। किसानों को भारी नुकसान हो रहा है। कहा कि अगर जल्द मिल में पेरााई शुरु नहीं की गई तो धरना प्रदर्शन किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here