जोशीमठ में दो और होटलों में दरार, PWD का गेस्ट हाउस भी चपेट में

joshimath hotelsजोशीमठ में दो और होटलों में दरारें आ गईं हैं। प्रशासन ने इन दोनों होटलों पर असुरक्षित का निशान लगा दिया है। जल्द ही इन्हे ध्वस्त किया जाएगा। इसके साथ ही  लोक निर्माण विभाग का गेस्ट हाउस भी दरारों की जद में आ गया है।

जोशीमठ में दरारें आने का सिलसिला लगातार जारी है। अब तक शहर के 849 भवनों में दरारें आ चुकी हैं। वहीं अब दो अन्य होटलों कॉमेट और स्नो क्रेस्ट होटलों में भी दरारें आई हैं। ये दोनों एक दूसरे की ओर झुकने लगे हैं। होटलों की भीतरी दीवारें मानों किसी ने ट्विस्ट कर दीं हों। खतरा देखते हुए इन दोनों होटलों को असुरक्षित घोषित करते हुए निशान लगा दिए गए हैं।

यही नहीं पीडब्ल्यूडी का गेस्ट हाउस भी दरारों से बुरी तरह प्रभावित हो गया है। जानकार बता रहें हैं कि गेस्ट हाउस को गिराए बिना काम नहीं चलेगा। कमरों की दीवारों में बड़ी बड़ी दीवारें हैं और कई स्थानों पर ढांचा तिरछा हो गया है।

सीबीआरआई की ओर से इनकी मॉनीटरिंग की जा रही है। सचिव आपदा प्रबंधन डॉ. सिन्हा ने बताया कि अगर ध्वस्तीकरण की जरूरत हुई तो इन्हें भी पूरी प्रक्रिया अपनाने के बाद ध्वस्त कर दिया जाएगा।  सीबीआरआई ने मकानों पर क्रेकमीटर लगाए हैं। इससे दरारों की प्रवृत्ति का पता लगाया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here