खबर का असर : चेन्नई में हुई चंपावत के युवक की मौत, गुत्थी सुलझाने और लापता भाई को तलाशने पुलिस रवाना

नैनीताल : बीते दिनों खबर आई कि तमिलनाडु में चम्पावत जिले के युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई है। इस खबर से युवक के परिवार में कोहराम मच गया। उसके शव को लेने भाई यहां से गया तो उसका आज तक कुछ पता नहीं चल पाया है वो लापता है। लापता युवक के सबसे बड़े भाई ने उत्तराखंड पुलिस से मदद मांगी। मामले से डीजीपी, डीआईजी औऱ कप्तान को अवगत कराया गया. वहीं खबर है कि पुलिस टीम हवाई सेवा के जरिए चेन्नई रवाना हो गई है। अब पुलिस गुत्थी सुलझाएगी कि आखिर मृतक का भाई कहां लापता हो गया। खबर उत्तराखंड ने इस खबर को प्रकाशित किया था जिसकी खबर का असर होता दिखा।

चेन्नई में खाना बनाने का काम करता था मृतक

आपको बता दें कि चम्पावत के पाटी ब्लॉक अंतर्गत देवीधुरा क्षेत्र के बनौली रीठाखाल निवासी प्रमोद्र शर्मा तमिलनाडु के चेंगलपट्टू जिले के गुडुवंचेरी थाना अंतर्गत एसआरएम अस्पताल और एसआरएफ यूनिवर्सिटी में खाना बनाने का काम करता था, जो 23 अक्टूबर को एसआरएम हॉस्पिटल में भर्ती था। मृतक के भाई ने बताया कि उसका भाई वहां इशरत परवीन नामक महिला मित्र के साथ लिव इन रिलेशन में रहता था। 22 अक्टूबर को आर्यन नाम के व्यक्ति ने प्रमोद के फोन से उसके साथ हादसा होने और अस्पताल में भर्ती होने की जानकारी दी थी।

23 अक्टूबर को महिला मित्र ने किया था फोन 

वहीं अगले दिन 23 अक्टूबर को महिला मित्र ने फोन पर कहा कि चिंता की बात नहीं है। 25 अक्टूबर को इशरत ने खून की जरूरत बताते हुए भाई को बुलाया तो बड़े भाई पान देव ने छोटे भाई विपिन को भेजा लेकिन रात 10 बजे चिकित्सकों ने प्रमोद को मृत घोषित कर दिया। अगले दिन विपिन ने अस्पताल में अपने भाई की देखने के साथ ही फोटो खींचकर गुरुग्राम में नौकरी कर रहे बड़े भाई को भेजी। लेकिन 27 अक्टूबर को कागजातों में हस्ताक्षर करने के बाद भी उसका शव नहीं दिया गया। तभी से विपिन शर्मा से स्वजनों का संपर्क नहीं हो पा रहा है।

छोटे भाई विपिन निकला था भाई का शव लेने चेन्नई

पानदेव ने भाई प्रमोद की मौत के कारणों का पता लगाने और महिला के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज करने औऱ लापता छोटे भाई विपिन का पता लगाने के लिए बड़े भाई ने पुलिस की मदद मांगी। डीआइजी नीलेश आनंद भरणे के अनुसार पुलिस टीम पीडि़त की मदद के लिए तमिलनाडु भेजी गई है। टीम के वहां पहुंचने पर इस घटना में आगे की जानकारी मिल पाएगी।

पुलिस के लिए लापता युवक को ढूंढना चुनौती भरा है। साथ ही मौत के कारण का पता लगाना भी पुलिस के लिए जरुरी है ताकि मृतक के परिवार को संतुष्टि हो जाए और उनको बेटे की मौत का कारण स्पष्ट हो जाए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here