उत्तराखंड के चैतन्य ने 18 की उम्र में कर दिया कमाल, देश भर में हासिल की चौथी रैंक

हल्द्वानी : उत्तराखंड के एक 18 साल के लड़के ने बड़ी सफलता पाई. जिस उम्र में लड़के मौज मस्ती घूमते फिरते और दोस्तों के साथ पार्टी करते हैं उस उम्र में हल्द्वानी के चैतन्या पांडे ने एनडीए की परीक्षा पास कर देश में चौथा रैंक हासिल किया है। इससे चैतन्या के परिवार, गांव में खुशी का माहौल है। चैतन्या के शिक्षकों को यकीन नहीं हो रहा है कि चैतन्या ने देशभर में चौथी रैंक हासिल की। आपको बता दें कि एनडीए का रिजल्ट 17 दिसंबर को घोषित हुआ था।

चैतन्या के पिता संजय पांडे पेशे से अधिवक्ता 

इस चैतन्य पांडे ने अपनी इस सफलता का श्रेय माता-पिता और स्कूल में अध्यापकों को दिया है। चैतन्या ने बताया कि स्कूल की पढ़ाई के साथ उसने एनडीए की पढ़ाई की। 17 दिसंबर को एनडीए का रिजल्ट घोषित हुआ जिसमे चैतन्या ने देशभर में 4थी रैंक हासिल की। आपको बता दें कि चैतन्या के पिता संजय पांडे पेशे से अधिवक्ता हैं। चैतन्य पांडे राष्ट्रीय इंडियन मिलिट्री कालेज देहरादून से इंटर की पढ़ाई कर रहे थे। दिसंबर में ही उसकी परीक्षा खत्म हुई।

बता दें कि चैतन्य की प्रारंभिक शिक्षा निर्मला कांवेंट स्कूल काठगोदाम से हुई है। उनकी मां पूनम पांडे ग्रहणी हैं। चैतन्या की इस सफलता पर उसके स्कूल के शिक्षिकों का कहना है कि टीचरों से प्रेरणा लेकर उसने भी अन्य बच्चों के साथ पढ़ाई शुरू कर दी थी। उसे उम्मीद थी कि एनडीए के लिए चयनित हो जाएगा, लेकिन देश में चौथा स्थान आएगा इसकी संभावना थोड़ी कम थी। चैतन्य ने बताया कि उसने इंटरमीडिएट की पढ़ाई के साथ ही एनडीए की पढ़ाई को भी दो से तीन घंटे का समय दिया। स्कूल के बाद वह घर पर ही रिवीजन करता था। उसके चाचा अखिल पांडे ने भी एनडीए की परीक्षा पास की थी। वह सेना में अपनी सेवा दे रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here