देहरादून : पटेलनगर पुलिस को बड़ी सफलता, छोटे-मोटे नहीं बड़े वाहनों पर करते थे हाथ साफ

देहरादून की पटेलनगर पुलिस को बड़ी सफलता हासिल हुई है। पुलिस ने कई राज्यो में बड़े वाहन (ट्रक, डम्फर) चोरी की वारदात को अंजाम दे चुके अन्तर्राज्यीय गिरोह के 02 सदस्यो को गिरफ्तार किया है। वहीं पुलिस ने अभियुक्तों के कब्जे से आईएसबीटी से चोरी किया गया बड़ा डम्फर (12 टायरा), घटना में प्रयुक्त कार मारुति ब्रेज़ा, 01 मोबाइल फ़ोन बरामद किया है।

आपको बता दें कि 5 नवंबर को गढ़ी कैंट निवासी विशाल सिह पुण्डीर ने थाना पटेलनगर में तहरीर देेते हुए बताया कि रात मेें उनका डम्पर बिग बाजार मॉल के सामने खाली प्लॉट आईएसबीटी से किसी ने चोरी कर लिया। पटेलनगर पुलिस ने तुरंत मुकदमा दर्ज कर वाहन और चोर की तलाश शुरु कर दी। देहरादून एसएसपी जन्मेजय खण्डूरी ने आरोपियों को जल्द पकड़ने के निर्देश दिए। घटना के खुलासे के लिए पटेलनगर कोतवाली ने खुद के नेतृत्व मे 03 पुलिस टीमें गठित की। सीसीटीवी फुटेज खंगाले गएष सन्दिग्धों से पूछताछ की गई। एक टीम को यूपी और दिल्ली भेजा गया।

पुलिस टीम द्वारा की गयी कार्यवाही :-

पुलिस टीम ने चोरी किए गए वाहन की बरामदगी और आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए मुखबिरों को सक्रिय किया और कुल मिलाकर 248 सीसीटीवी कैमरों को चैक किया। पुलिस के हाथ सुराग लगा कि 4/5 नवंबर की रात आरोपियों द्वारा चोरी किया गया डम्पर को बिग बाजार के सामने खाली प्लॉट से चोरी कर आशारोडी, मोहण्ड, छुटमलपुर, मुजफ्फरनगर, मेरठ मार्ग से होते हुए दिल्ली ले जाया गया। टीम ने सघनता से घटना से पूर्व और घटना के बाद के सीसीटीवी फुटेज को चैक किया तो पाया कि घटना स्थल पर घटना से पहले एक वाहन कार का मूवमेन्ट देखा गया और घटना के बाद चोरी के डम्पर से आगे लगभग आधा किलोमीटर की दूरी पर उक्त कार जाना पाया गया। पुलिस ने कार और डम्पर का पीछा करते हुए बीते दिन 9 नवंबर की रात डीडीए जनता फ्लैट के पास जसौला शाहीन बाग ओखला दिल्ली से 02 आरोपियों को गिरफ्तार किया। उनके कब्जे से डंपर बरामद किया गया।

पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि उन्होंने पहले भी कई राज्यों मे बडे वाहनों (डम्पर, ट्रक) की चोरी की घटना को अंजाम दिया है। उनके ऊपर उत्तराखण्ड, उत्तर प्रदेश, राजस्थान आदि राज्यों वाहन चोरी के कई मुकदमें पंजीकृत हैं। 4 नवंबर को वह आईएसबीटी और उसके आस-पास के क्षेत्र में खडे डंपरों को चोरी करने के लिए अपने एक अन्य साथी जिषान पुत्र यामीन निवासी सिकन्दर पुर जिला सम्भल, के साथ कार में आये थे और उन्होंने आईएसबीटी और अन्य स्थानो मे खडे डम्परों की रैकी की गई और मौका देखकर मास्टर की (चाबी) से आईएसबीटी बिग बाजार के सामने खाली प्लॉट मे खडे डम्पर को चोरी किया। इसके बाद चोरी किये गये डम्फर को जिशान और महबूब लेकर आये औऱ तेजेन्द्र आगे-आगे पुलिस चैकिंग को देखते हुए लगभग आधा किलोमीटर की दूरी पर चलता रहा। डम्पर को वो पीरगढ़ी दिल्ली में बेचने की फिराक में खरीददार की तलाश कर रहे थे। वो डोंगल का इस्तेमाल कर नेट चलाते और व्हाट्सएप पर बात करते थे।

आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि वे तीनों 10-11 अक्टूबर की रात विकासनगर आए थे और उन्होंने विकासनगर से एक डम्पर को चोरी कर उसे दिल्ली पीरगढ़ी में बेच दिया था। उइस संबंध में जानकारी करने पर पाया कि कोतवाली विकासनगर मे डम्पर चोरी के सम्बन्ध मे मु0अ0सं0-450/2021 धारा-379 भादवि बनाम अज्ञात पंजीकृत है ।

आरोपियों का नाम पता

1- महबूब अली पुत्र दुले खाँ निवासी कस्बा सरसी साधक सराया थाना नकासा उत्तर प्रदेश उम्र 48 वर्ष ।
2- तेजेन्द्र पुत्र बाबू लाल निवासी मण्डल थाना अस्मोली जिला सम्भल उत्तर प्रदेश उम्र-32 वर्ष ।

फरार आरोपी
1-जिशान पुत्र यामीन निवासी सिकन्दरपुर जिला सम्भल उत्तर प्रदेश।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here