सड़क हादसे में महिला कांस्टेबल की मौत, अधिकारियों और साथियों ने दी नम आंखों से विदाई

काशीपुर : काशीपुर में बीती शाम सड़क दुर्घटना में मृत काशीपुर कोतवाली में तैनात महिला कांस्टेबल की मौत के बाद आज पुलिस विभाग के अधिकारियों के साथ साथ प्रशासनिक अधिकारियों ने पुष्प चक्र अर्पित कर अश्रुपूर्ण श्रद्धांजलि दी।

आपको बताते चलें कि 2006 बैच की कॉन्स्टेबल सीपी 505 नीलम रत्नाकर (35 वर्षीय) पत्नी विश्व दीप सिंह काशीपुर कोतवाली में पिछले करीब 9 माह से कोर्ट पैरोकार के पद पर तैनात थी। बीती शाम रुद्रपुर कोर्ट से वापस आकर बाजपुर रोड स्थित आलू फार्म पर किसी वाहन से उतरकर सड़क पर कर रही थी कि सड़क पार करते समय अज्ञात वाहन उन्हें जोरदार टक्कर मारकर मौके से फरार हो गया। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची आईटीआई थाना पुलिस ने उन्हें आनन-फानन में अस्पताल पहुंचाया जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

मृतका नीलम रत्नाकर मूल रुप से जनपद अल्मोड़ा के विवेकानंदपुरी की रहने वाली है और उनकी शादी करीब 10 वर्ष पूर्व पड़ोसी राज्य यूपी के जिला मुरादाबाद में दिल्ली रोड स्थित मानसरोवर कॉलोनी के रहने वाले अधिवक्ता विश्वदीप सिंह के साथ हुई थी। उनकी एक 8 वर्षीय पुत्री विदिशा सिंह उर्फ कीवी है। वह वर्तमान में कोतवाली परिसर में बने क्वार्टर में रह रहीं थीं। अचानक घटित घटना से पुलिस विभाग में शोक की लहर दौड़ गई।

आज मृतका नीलम के शव का पोस्टमॉर्टम करवाने के बाद उनके शव को विभागीय अंतिम विदाई देने के लिए काशीपुर कोतवाली लाया गया। इस दौरान सीओ काशीपुर अक्षय प्रह्लाद कोंडे, संयुक्त मजिस्ट्रेट काशीपुर आकांक्षा वर्मा के साथ साथ कोतवाल मनोज रतूड़ी, समेत सभी पुलिसकर्मियों ने मृतका नीलम के शव पर पुष्प चक्र और पुष्प अर्पित कर अश्रुपूर्ण अंतिम विदायी दी। जिनके बाद उनके शव को अंतिम संस्कार के लिए ससुराल मुरादाबाद में दिल्ली रोड स्थित मानसरोवर कॉलोनी के लिए रवाना कर दिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here