उत्तराखंड। सामूहिक दुष्कर्म मामले में महिला आयोग सख्त, जल्द गिरफ्तारी के निर्देश

ncw in roorkee
घटना स्थल का निरीक्षण करती महिला आयोग की टीम

 

रुड़की में पिछले दिनों हुए सामूहिक दुष्कर्म मामले में अब राष्ट्रीय महिला आयोग ने संज्ञान लिया है। महिला आयोग ने इस संबंध में रिपोर्ट तलब की है। आयोग ने पुलिस की कार्यशैली पर भी सवाल उठाए हैं।

रुड़की कलियर मार्ग पर एक महिला और उसकी पांच साल की मासूम बेटी के साथ हुए गैंगरेप मामले में महिला आयोग ने रुड़की पहुंचकर अधिकारियों से मामले की पूरी जानकारी ली है। आयोग ने तीन सदस्यों की एक टीम का गठन किया है। राष्ट्रीय महिला आयोग पूरे मामले पर नजर बनाए हुए है। बताया जा रहा है कि राष्ट्रीय महिला आयोग की टीम एसपी से मिलना चाह रही थी लेकिन उसकी मुलाकात नहीं हो पाई। इससे टीम के सदस्य नाराज भी हुए। वहीं टीम ने सीओ विवेक कुमार से आरोपियों की गिरफ्तारी न होने पर गहरी नाराजगी जताई है।

राष्ट्रीय महिला आयोग की टीम ने घटनास्थल का निरीक्षण किया है। इसके साथ ही पीड़ित महिला से मुलाकात कर पूरे घटनाक्रम की जानकारी भी ली है। टीम ने डाक्टरों को निर्देश दिए हैं कि महिला और बच्ची के इलाज में कोई कोताही न हो।

उत्तराखंड। गैंगरेप के आरोपियों पर ईनाम घोषित

वहीं उत्तराखंड महिला आयोग ने भी इस मामले में रिपोर्ट तलब की है। इसके साथ ही आयोग ने पुलिस अधिकारियों को सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

आपको बता दें कि शुक्रवार की रात रुड़की कलियर मार्ग पर एक महिला और उसकी बच्ची को लिफ्ट देने के बहाने कार में बैठा कर सामूहिक रेप किया गया था। इसके बाद महिला और उसकी बच्ची को लहूलुहान हालत में गंगनहर के किनारे छोड़ कर फरार हो गए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here