विधायक ने किया आपदा से भीमताल में मची तबाही का दर्द बयां, कहा- सरकार साथ है

हल्द्वानी : बीते दिनों उत्तऱाखंड में आई आपदा से कुमाऊं क्षेत्र को सबसे ज्यादा नुकसान हुआ। बात करें जिलों की तो नैनीताल जिलों को सबसे ज्यादा नुकसान हुआ. सबसे ज्यादा मौतें भी नैनीताल में ही हुई। वहीं सीएम समेत कई मंत्री विधायकों ने आपदा प्रभावित क्षेत्रों का दौरा भी किया। वहीं आज भीमताल से विधायक राम सिंह कैड़ा ने अपनी विधानसभा में मची तबाही का दर्द सुनाया।

विधायक ने बयां किया दर्द

विधायक राम सिंह कैड़ा ने दर्द बयां करते हुए कहा कि भारी बारिश से प्रदेश में आई आपदा में सबसे ज्यादा नुकसान भीमताल विधानसभा में हुआ है। जिसमें कई लोगों की मौत हो चुकी है। भीमताल से विधायक राम सिंह कैड़ा के मुताबिक उनके क्षेत्र में आपदा से बड़ा नुकसान हुआ है। लोगों के खेत बह गए और फल-सब्जी खराब हो गयी वो खुद दिन रात लोगों की मदद में जुटे हैं.

विधायक ने कहा कि घरों में मलबा भरा है और अभी भी आपदा राहत बचाव कार्य जारी है. सभी अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि टीम बनाकर हर क्षेत्र में सर्वे किया जाए जिससे नुकसान का सही आंकलन हो सके और पीड़ितों को उचित मुआवजा मिल सके।

डीएम ने किया रामनगर में आपदा ग्रस्त क्षेत्रों का दौरा

वहीं बता दें कि रामनगर में आई आपदा से ग्रस्त क्षेत्रों चुकुंम गाँव और सुंदरखाल, पुछड़ी ग्राम जो कोसी किनारे स्थित थे। काफी संख्या में बर्बाद हो चुके क्षेत्रो का दौरा करने पहुँचे नैनीताल जिलाधिकारी धीरज सिंह गर्ब्याल और स्थानीय प्रशासनिक अधिकारी। मौके पर पहुँचकर जिलाधिकारी ने आपदा से पीड़ित लोगों से वार्ता की. वहीं दूरस्थ क्षेत्रों के आपदा पीड़ितों ने विस्थापन की बात रखी। जिलाधिकारी द्वारा पीड़ितों को रहने के लिए टेंट ओर खाने की व्यवस्था पर ध्यान दिया और विस्थापन के लिए कार्यवाही करने की बात कही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here