भूस्खलन की चपेट में आने से सेना का पूरा कैंप तबाह, 14 की मौत

manipur landslide

 

मणिपुर में हुई भयानक लैंडस्लाइड में सेना के सात जवानों समेत 14 लोगों की मौत हो गई है। इस हादसे में सेना का कैंप पूरी तरह तबाह हो गया है।

मणिपुर के नोनी जिले में भारी बारिश की वजह से बुधवार की रात अचानक पूरा पहाड़ दरक गया। इस पहाड़ पर सेना का एक कैंप लगा हुआ था। पहाड़ दरकने से सेना का पूरा कैंप तबाह हो गया। हादसे के वक्त बड़ी संख्या में सेना के जवान कैंप में मौजूद थे। इसके साथ ही बड़ी संख्या में सिविलियन और रेलवे के अधिकारी और कर्मचारी भी मौजूद थे। मलबे में दबने से सात जवानों की मौत हो गई। इसके साथ ही 7 अन्य लोगों की भी मौत हो गई।

Nupur Sharma News: सुप्रीम कोर्ट ने टीवी पर माफी मांगने को कहा, सोशल मीडिया पर बहस

मलबे में बड़ी संख्या में जवान और अन्य लोग दबे हैं। उनकी तलाश की जा रही है। हालांकि भारी बारिश के चलते राहत कार्यों में खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। इस हादसे में एक दर्जन से अधिक लोगों को रेस्क्यू किया गया है।

मणिपुर के नोनी जिले में इम्फाल-जिरिबम रेलवे लाइन के निर्माण का काम चल रहा है जिसकी सुरक्षा के लिए सेना के जवानों को तैनात किया गया है। टेरिटोरियल आर्मी की 107 कंपनी लैंडस्लाइड की चपेट में आई है। रेस्क्यू ऑपरेशन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नजर है। पीएम मोदी ने मणिपुर के सीएम बीरेन सिंह से बात की और हर संभव मदद का भरोसा दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here