दिल्ली में लॉकडाउन, एक हफ्ते के लिए सभी स्कूल बंद, कर्मचारी घर से करेंगे काम

दिल्ली सरकार एक्शन मोड में आ गई है। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने आपाल बैठक बुलाकर कई बड़े फैसले लिए हैं और एक बार फिर से दिल्ली में कई पाबंदियां लगाई है। दरअसल ये पाबंदियां दिल्ली की हवा के प्रदूषित होने पर लिया गया है ताकि सभी सुरक्षित और स्वस्थ्य रहें। इस बैठक में सरकार ने सभी सरकारी ऑफिस के कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम का फैसला लिया है। साथ ही 14 से 17 नवंबर तक निर्माण कार्य पर भी रोक रहेगी।

अरविंद केजरीवाल ने बताया कि प्राइवेट कंपनियों के लिए भी एडवाइजरी जारी की गई है कि वह ज्यादा-से-ज्यादा कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम भेजने का सुझाव दे सकते हैं। इससे कम से कम लोग ही बाहर निकलेंगे, ताकि सड़कों पर भीड़ कम हो सके। वहीं सोमवार से एक हफ्ते के लिए स्कूल को बंद कर दिया है। हालांकि, आनलाइन क्लास पहले की तरह चलती रहेंगी। स्कूल बंद होने से बच्चों की पढ़ाई किसी भी हाल में बाधित नहीं होगी. सीएम केजरीवाल ने यह भी कहा कि बच्चों के स्कूल को बंद करने का कारण यही है कि वह कम से कम दूषित हवा के संपर्क में आएं औऱ स्वस्थ्य रहें।

दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण के कारण खराब होते हालात के कारण सुबह सुप्रीम कोर्ट ने सख्ती दिखाई थी जिसका असर शाम होते दिखने लगा। दिल्ली सरकार ने कोर्ट की टिप्पणी के बाद तुरंत इमरजेंसी मीटिंग बुलाई जिसमें हालात को सामन्य करने के लिए सख्त रुख अपनाने का आदेश दिया गया है।दिल्ली में दीपावली के बाद वायु प्रदूषण बढ़ता ही जा रहा था जिसके कारण यहां एक्यूआइ लगभग 500 के आसपास बना हुआ है। स्थिति खराब होने के कारण यहां के हालात को हेल्थ इमरजेंसी जैसी संज्ञा दी गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here