5 जुलाई से जंगल में लापता मजदूरों का पता चला, घर के लिए निकले थे पैदल

lobourers search in assam border

 

अरुणाचल प्रदेश के कुरुंग कुमे जिले से लापता हुए असम के 19 मजदूरों में से सात मजदूरों का पता लगा लिया गया है। सातों मजदूरों को बचाने के बाद तुरंत ही चिकित्सा सहायता प्रदान की गई है। बता दें कि IAF के हेलिकाप्टर खोज और बचाव कार्यों में लगे हुए हैं। एसडीआरएफ पहले से ही उनकी तलाश में लगा हुआ है। अधिकारियों ने इस बात की जानकारी दी है।

लोकसभा में कांग्रेस के उपनेता गौरव गोगोई ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से इन लापता श्रमिकों को तलाशने के लिए सेना को लगाने का अनुरोध किया था। कुरुंग कुमे के उपायुक्त बेंगिया निघी ने बताया कि जिला प्रशासन के अनुरोध पर वायुसेना के हेलिकाप्टर दामिन क्षेत्र में कुमे नदी के आसपास तलाश अभियान शुरू करेंगे। इसके अलावा राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) भी जल्द ही लापता श्रमिकों के तलाश अभियान में शामिल होगा।

सीएम धामी ने कराई कांवड़ियों पर हेलिकॉप्टर से पुष्प वर्षा

बता दें कि सभी मजदूर 5 जुलाई से लापता हैं। बीते दिन ये बात सामने आई थी कि अरुणाचल प्रदेश में भारत-चीन सीमा के पास कुरुंग कुमे जिले में एक मजदूर की मौत हो गई। जबकि 18 अन्य लापता हैं। मजदूर का शव पास की एक नदी में मिलने की खबर सामने आई थी। ठेकेदार से ईद की छुट्टी न मिलने पर ये सभी मजदूर पैदल ही निकल पड़े थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here