हरीश रावत पर दिखने लगा उम्र का असर, अनाप-शनाप बयानबाजी से दे रहे मानसिक दिवालियेपन का परिचय- उनियाल

देहरादून : चुनाव से भाजपा औऱ कांग्रेस में वार पलटवार का सिलसिला शुरु हो गया है। हरीश रावत पर भाजपा पर हमलावर है तो वहीं हरीश रावत भी किसी पर भी निशाना साधने में पीछे नहीं हट रहे है। बीते दिन हरीश रावत ने सीएम समेत पूरी सरकार को आड़े हाथ लिया तो वहीं अब कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस के चुनाव अभियान समिति के मुखिया हरीश रावत  पर हमला वर हुए।

बता दें कि मंत्री सुबोध उनियाल ने खनन के मुद्दे को लेकर हरीश रावत पर हमला किया और कहा कि कभी-कभी व्यक्ति अपने गिरेबां में झांकना भूल जाता है। हरीश रावत के मुख्यमंत्रित्वकाल में राज्य में क्या-क्या हुआ, जनता अच्छी तरह जानती है। प्रदेश भाजपा मुख्यालय में पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत में कैबिनेट मंत्री उनियाल ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत को सरकार पर आरोप लगाने से पहले अपने गिरेबां में झांकना चाहिए। उन्होंने आंकड़े रखते हुए कहा कि वर्ष 2014 से 2017 तक राज्य में 157 खनन लाट आवंटित की गई थीं।

सुबोध उनियाल ने कहा कि हरीश रावत पर उम्र का असर दिखने लगा है, जो उनके बयानों में भी झलकता है। अनाप-शनाप बयानबाजी से रावत मानसिक दिवालियेपन का परिचय दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस राज में प्रदेश में खनन और शराब माफिया हावी थे। हरीश रावत के कार्यकाल में क्या-क्या हुआ, सभी लोग अच्छी तरह जानते हैं।

सुबोध उनियाल ने कहा कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के कार्यकाल में जुलाई से अब तक मत्स्य पालन के लिए एक पट्टा जारी हुआ, जबकि वन विकास निगम की सात और गढ़वाल मंडल विकास निगम की एक लाट नवीनीकृत की गई। नवीनीकरण के लिए भी सरकार ने आनलाइन व्यवस्था की है, ताकि पारदर्शिता बनी रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here