उत्तराखंड कांग्रेस में फिर सामने आई गुटबाजी, कैमरे के सामने भिड़े मंत्री, चढ़ा पारा

हल्द्वानी-उत्तराखंड में कांग्रेस में अक्सर गुटबाजी देखी गई है और ये गुजबाजी सिर्फ पार्टी के अंदर ही नहीं बल्कि बाहर जनता के सामने भी साफ देखी गई जिसका फायदा भाजपा समेत अन्य विपक्षी पार्टियों ने उठाया। कांग्रेस को इस गुटबाजी के कारण परिणाम भी भुगतने पड़े हैं। कांग्रेस को कमजोर कहा जा रहा है। कांग्रेस की गुटबाजी को लेकर विपक्षी पार्टियों ने कांग्रेस पर कई बार हमला भी बोला। कहीं ना कहीं गुटबाजी के कारण कांग्रसे कमजोर हुई है और भाजपा मजबूत।

हम ये इसलिए कह रहे हैं क्योंकि कांग्रेस से एक बार फिर से गुटबाजी का मामला सामने आया है। भरी सभा में मीडिया के कैमरे के आगे दो मंत्री शब्दों और अपने एक्शन से खूब लड़े। दरअसल हल्द्वानी स्वराज आश्रम में आज कांग्रेसियों में विवाद की एक तस्वीर सामने आई है, राजीव गांधी के जयंती कार्यक्रम के दौरान कांग्रेस भवन में हल्द्वानी विधानसभा सीट से चुनाव कौन लड़ेगा इसको लेकर पूर्व प्रदेश प्रवक्ता और पूर्व दर्जा राज्यमंत्री में कहासुनी हो गई, कांग्रेस नेता औऱ पूर्व प्रदेश प्रवक्ता हुकम सिंह कुंवर और पूर्व राज्य मंत्री इकबाल भारती के बीच जबरदस्त कहासुनी हुई, पूर्व दर्जा राज्य मंत्री इकबाल भारती द्वारा स्वर्गीय इंदिरा हृदयेश के पुत्र सुमित को हल्द्वानी से दावेदार बताए जाने पर पूर्व प्रदेश प्रवक्ता हुकम सिंह पर आग बबूला हो गये, जिसके बाद जो स्वराज आश्रम में बैठे और लोगों ने भी हल्द्वानी सीट से अपनी दावेदारी पेश कर दी, कांग्रेस पार्टी में आपसी गुटबाजी का मामला सामने आना कोई नई बात नहीं है।

इंदिरा हृदयेश के निधन के बाद हल्द्वानी सीट से कई कांग्रेसी अपनी दावेदारी पेश कर रहे हैं, जिस तरह के विवाद की तस्वीर आज हल्द्वानी के स्वराज आश्रम से सामने आई है इससे यह साफ जाहिर हो रहा है कि हल्द्वानी में कांग्रेस के अंदर कई गुट बन चुके हैं, कांग्रेस के पूर्व प्रदेश प्रवक्ता हुकम सिंह कुंवर का कहना है कि दावेदारी कोई भी कर सकता है और हर कार्यकर्ता को अपनी दावेदारी करने का हक है लिहाजा किसी एक आदमी को दावेदार बता देना अच्छा नहीं है। उधर पूर्व दर्जा राज्य मंत्री इकबाल भारती ने कहा कि वे पिछले 50 सालों से कांग्रेस पार्टी के लिए काम कर रहे हैं और वर्तमान में प्रदेश महामंत्री भी है, लेकिन उन लोगों को हल्द्वानी सीट से अपनी दावेदारी पेश करनी चाहिए जिनको अपनी जमीनी हकीकत का पता हो।

विधानसभा चुनाव नजदीक है, ऐसे में कांग्रेस की गुटबाजी खुलकर सामने आ रही है, हल्द्वानी विधानसभा सीट से दावेदार बढ़ते जा रहे हैं। ऐसे में आज स्वराज आश्रम में हुई घटना कांग्रेस के अंदर की गुटबाजी ने पूरी तरीके से सबके सामने पार्टी की पोल खोल कर रख दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here