उत्तराखंड : पुलिस को बड़ी सफलता, 35 लाख की अवैध शराब जब्त, फर्जी मोहरें बरामद

रामनगर : रामनगर में पीरूमदारा पुलिस ने शराब की तस्करी का भंडाफोड़ किया है। देहरादून से अल्मोड़ा ले जायी जा रही अवैध शराब की 500 पेटियों से लदे कैंटर  को पीरूमदारा पुलिस ने पकड़ लिया। पुलिस ने शराब तस्करी में कैंटर चालक समेत दो लोगों को गिरफ्तार किया है।  बरामद शराब की कीमत करीब 35 लाख रुपये बताई जा रही है।

शनिवार को सीओ पंकज गैरोला व कोतवाल रवि सैनी के निर्देशन में पीरूमदारा चौकी इंचार्ज कवींद्र शर्मा टीम के साथ वाहनों की चेकिंग कर रहे थे। इसी दौरान काशीपुर की ओर से आ रहे कैंटर को रोककर उसकी चेकिंग की गई तो कैंटर में शराब की पेटियां भरी मिलीं। इस पर पुलिस ने अल्मोड़ा जनपद के ग्राम दयौली निवासी दिनेश कार्की पुत्र खीम सिंह व अल्मोड़ा जनपद के ही ग्राम लमगड़ा निवासी निशांत कपूर पुत्र मोहन लाल को पकड़ लिया। इसके बाद कैंटर को कब्जे में लेकर उसमेें लदी शराब की पेटियों की गिनती कराई।

इस ब्रांड की शराब बरामद

वाहन में सौ पेटी मैकडेवल व व्हीस्की, हॉफ की 25 पेटी, क्वार्टर की 25 पेटी, मैकडेवल रम के हॉफ की 150 पेटी, रॉयल चैलेंज व्हीस्की बोतल की सौ पेटी, हॉफ की 50 पेटी, क्वार्टर की 50 पेटी बरामद हुई। चौकी इंचार्ज कवींद्र शर्मा ने बताया कि शराब देहरादून कुंआवाला स्थित शराब फैक्ट्री से खरीदकर फर्जी तरीके से लायी जा रही थी। वाहन को आरोपित दिनेश कार्की चला रहा था। आरोपितों के खिलाफ आबकारी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर वाहन को सीज कर दिया गया है। आरोपितों को कोर्ट मेें पेश किया जाएगा।

जानकारी मिली है कि शराब फेक्ट्री देहरादून के कुँवा वाला में है, जहाँ से ये शराब की खेप लाई जा रही थी। पीरूमदारा पुलिस ने चैकिंग के दौरान कैंटर को पकड़ा जिससे ये शराब की खेप बरामद हुई है। साथ ही टीम को  आरोपितों के पास से पुलिस को देहरादून, बाजपुर, पिथौरागढ़ आबकारी विभाग की फर्जी 11 मोहरें बरामद की गई हैं। इसके अलावा शराब का फर्जी बिल व महालक्ष्मी ट्रांसपोर्ट कंपनी के 24 फर्जी बिल व वाणिज्य कर विभाग के 35 रसीदी टिकट मिले हैं। इन फर्जी मोहर, बिल के आधार पर वह बच निकलने का प्रयास कर रहे थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here