पहलवान विनेश फोगाट ने बृजभूषण शरण को लेकर किया बड़ा दावा, नहीं बनी बात

VINESH PHOGAT जंतर मंतर पर धरना दे रहे पहलवान अपनी मांगों पर अड़े हैं। इसी बीच पहलवान विनेश फोगाट ने कहा है कि ये आत्म सम्मान की लड़ाई है। विनेश फोगाट ने बताया कि सभी पहलवान हमारे साथ हैं। हमारे पास बृजभूषण के खिलाफ सबूत हैं। हिंदुस्तान के पहलवान डरेंगे नहीं। हमारी लगातार मांग हैं कि बृजभूषण को सामने बिठाओ, आमने सामने की बैठक में वे अपनी बात रखें।

इसी बीच खेलमंत्री अनुराग ठाकुर के यहां बैठक के लिए खेल सचिव सुजाता चतुर्वेदी अनुराग ठाकुर के आवास पर पहुंची। DG SAI संदीप प्रधान व अन्य अधिकारी भी खेलमंत्री के आवास पर पहुंचे।

 

विनेश ने कहा कि सही उपाय नहीं निकला तो कल शनिवार को फिर 10 बजे जंतर मंतर पर इकट्ठा होंगे। विनेश ने कहा कि ये पहलवानों के आत्मसम्मान की लड़ाई है। जब तक न्याय नहीं मिलेगा यह लड़ाई जारी रहेगी। पहलवान विनेश फोगाट ने कहा कि हम सारे मुद्दे पेश कर रहे हैं। अगर यह केवल कुश्ती के बारे में होता, तो मामला एक घंटे की बैठक में हल हो जाता।लेकिन यह एक बड़ा मुद्दा है। यह सिर्फ एक नहीं बल्कि कई लड़कियों की से जुड़ी बात है। हम खुले तौर पर इसका खुलासा नहीं कर सकते।

 

इसी बीच सरकार ने कहा कि अगर खिलाड़ी सहमत हों तो जांच रिपोर्ट आने तक बृजभूषण शरण सिंह खुद को कुश्ती संघ से अलग कर सकते हैं। सरकार ने खिलाड़ियों से कहा कि यौन उत्पीड़न के आरोपों की जांच के लिए तीन सदस्यीय समिति बनाई जा सकती है और इसके तीनों सदस्यों के नाम खिलाड़ी ही दे सकते हैं। जिन कोच के ऊपर आरोप हैं, वे भी जांच पूरी होने तक कुश्ती संघ से अलग हो सकते हैं।

 

सूत्रों के अनुसार यौन उत्पीड़न के आरोपों पर खिलाड़ी कुछ ठोस नहीं बता पाए। खिलाड़ियों ने कल रात कहा था कि सरकार के प्रस्तावों पर वे आज बात करने के लिए वापस आएंगे लेकिन अभी तक नहीं आए।

खबर ये भी है कि विनेश फोगाट ने टोक्यो ओलंपिक में टीम ड्रेस के बजाए स्पांसर की ड्रेस पहनी थी इस पर उन्हें कुश्ती संघ और भारतीय ओलंपिक संघ की ओर से डांटा गया था। लेकिन कुश्ती संघ ने उनके खिलाफ इस मुद्दे पर अनुशासनात्मक कार्रवाई नहीं की थी।

सूत्रों के अनुसार सरकार चाहती है कि खिलाड़ियों का विरोध प्रदर्शन जल्द खत्म हो क्योंकि गणतंत्र दिवस के कार्यक्रम में अधिक दिन नहीं बचे हैं।

जंतर मंतर पर बैठे हैं पहलवान

कुश्ती महासंघ की अनियमितताओं के खिलाफ पहलवान तीन दिन से जंतर मंतर पर बैठे हैं। इसी बीच कल शुक्रवार रात खेलमंत्री अनुराग ठाकुर ने पहलवानों को चर्चा के लिए डिनर पर आमंत्रित किया था। देर रात तक चर्चा भी हुई लेकिन कोई बात नहीं बनी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here