उत्तराखंड : महिला को नौकरी का झांसा, पैसे भी ठगे, इज्जत भी लूटी, कइयों को लगाया चूना

हल्द्वानी: ठगी के नए-नए मामले सामने आते रहते हैं। ठगी करने वाले हर बार नया तरीका खोज निकालते हैं। इस बार एक ऐसा शातिर ठग पकड़ा गया है, जिसने उस मकान मालिक को भी नहीं छोड़ा, जिसके घर में किराए के कमरे में रह रहा था। और तो और ठग ने पुलिस जवानों की पत्नियों को भी ठगी का शिकार बनाया। इतना ही नहीं एक महिला से नौकरी दिलाने के नाम पर पैसे भी ठगे और उसके साथ दुष्कर्म भी किया। महिला ने आरोपी के खिलाफ शिकायत भी दर्ज कराई है।

आरोपी कभी खुद किसी अधिकारी को करीबी बताता था तो, कभी किसी और का। वो अक्सर लोगों को सरकारी नौकरी लगवाने का झांसा देता था। खुद को कभी जिला मेडिकल अधिकारी बताता था तो कभी स्वास्थ महानिदेशक उत्तराखंड का करीबी बताता था। फिलहाल तो आरोपी ठग अब सलाखों के पीछे है। बागेश्वर निवासी चारू चंद्र जोशी फरवरी 2020 में उसके घर में किराए पर रहने आया था और बताया था कि वह जिला मेडिकल अधिकारी है।

कुछ दिन बीतने के बाद चारू ने मकान मालिक को झांसे में लेना शुरू किया और कहा कि वह एक सरकारी अधिकारी है। वह उनकी नौकरी बेस अस्पताल में लगवा सकता है। मकान मालकिन जालसाज चारू के झांसे में आ गईं और सरकारी नौकरी के लालच में पांच लाख रुपए दे बैठीं। इस रकम से एक लाख 90 हजार तो उन्हें वापस मिल गए, लेकिन जब बाकी की रकम नहीं मिली तो उन्होंने कोतवाली में आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करा दी।

जालसाज की जालसाजी के कई किस्से हैं। एक किस्सा एक पुलिस कर्मी की पत्नी से जुड़ा है। पुलिस कर्मी ने बताया कि शादी से पहले उनकी पत्नी हल्द्वानी के एक निजी हॉस्पिटल में स्टाफ नर्सिंग के तौर पर काम करती थी। आरोपी चारू चंद्र जोशी का इस अस्पताल में आना-जाना था।

इसी दरम्यान चारू ने पुलिस कर्मी की पत्नी को झांसे में ले लिया और सरकारी अस्पताल में नौकरी लगवाने का भरोसा दिया।जिसके बाद चारू ने महिला से साढ़े पांच लाख रुपये ठग लिए। दबाव डालने पर आरोपी ने पीड़िता को चेक दे दिया, जो बाउंस हो गया। अब इस मामले में भी आरोपी चारू फंसता नजर आ रहा है।

इस शातिर ने ठग ने एक और पुलिस कर्मी को शिकार बनाया। सूत्रों की मानें तो इस पुलिस कर्मी को भी आरोपी चारू चंद्र जोशी ने प्रलोभन दिया था और कहा था कि वह उसके परिवार के सदस्य की सरकारी नौकरी लगवा देगा। जिसके एवज में आरोपी ने एक लाख 70 हजार रुपए ठगे, लेकिन जब चारू को लगा कि वह फंस जाएगा तो दबाव में आकर 50 हजार वापस भी कर दिए।

मुखानी थाना क्षेत्र से जुड़े दूसरे मामले में आरोपी ने एक महिला की सरकारी नौकरी लगवाने के बहाने उससे नजदीकियां बढ़ाई। उसके साथ दुष्कर्म किया और पैसे भी ऐंठ लिए। इस मामले में महिला ने सोमवार को मुखानी थाने में अपने बयान दर्ज कराए हैं। पुलिस अब आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करने की तैयारी कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here