सुनिए आप भी, भारत की एयर स्ट्राइक के बाद क्यों रोया मसूद अजहर का भाई??

पीओके में घुसकर आतंकवादियों का खात्मा करने की और कई कैपों को तबाह करने पर जहां भारत देशवासियों और सेना ने खुशी मनाई तो वहीं पाकिस्तान ने ऐसा होने से साफ इंकार किया…जबकि आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर के छोटे भाई मौलाना अम्मार ने भारत एयर स्ट्राइक की पुष्टि की है. साथ ही जम्मू-कश्मीर में सीआरपीएफ पर हुए आतंकी हमले की जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी.

मसूद अजहर के भाई मौलाना अम्मार का ऑडियो वायरल

जी हां मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार मसूद अजहर के भाई मौलाना अम्मार का ऑडियो वायरल हुआ है…जिसमें उसने भारतीय एयर स्ट्राइक की बात कबूली औऱ रोता-घबराता नजर आया. ऑडियो में मसूद अजहर का भाई जेैश-ए-मोहम्मद के कैंपों के भारत द्वारा तबाह होने का रोना रो रहा है. जबकि पाकिस्तान ने इससे साफ इंकार किया. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार ये ऑडियो 28 फरवरी का बताया जा रहा है. जिसमें मौलाना अम्मार ने एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए भारतीय वायुसेना की एयर स्ट्राइक में बालाकोट स्थित जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी कैंपों के तबाह होने की बात कही.

मौलाना अम्मार अफगानिस्तान और कश्मीर में आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने में मदद करता है

आपको बता दें मौलाना अम्मार जैश-ए-मोहम्मद की अफगानिस्तान और कश्मीर में आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने में मदद करता है. पाकिस्तान के वरिष्ठ पत्रकार ताहा सिद्दीकी ने अम्मार का यह ऑडियो ट्विटर पर पोस्ट किया. यही ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. मसूद अजहर को लेकर पाकिस्तान पर भारत समेत दुनिया के कई देशों को जबरदस्त दबाव है. संयुक्त राष्ट्र में मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने के लिए प्रस्ताव भी लाया गया है.

ऐसे दिया वायुसेना ने ऑपरेशन को अंजाम

गौर हो की 26 फरवरी को भारतीय वायुसेना द्वारा पीओके में घुसकर जैश-ए-मोहम्मद के कई बड़े कैंपों को तबाह किया गया. जैश के सबसे बड़े कैंप बालाकोट के साथ कई कमांडरों औऱ ट्रेनरों के साथ 300 से ज्यादा आतंकियों के मारे जाने की खबर सामने आई. लेकिन मसूद अजहर और पाक ने ऐसे किसी भी नुकसान से इंकार किया..जिससे साफ है कि पाक आतंक को बढ़ावा और साथ दे रहा है. वहीं एयर स्ट्राइक के अगले दिन सुबह पाक सेना ने वायुसीमा का उल्लंघन करते हुए भारत में घुसे जिसको खदेड़ते हुए अभिनंदन पाक जा पहुंचे और उन्हें पाक सेना द्वारा गिरफ्तार किया गया. वहीं भारत की चेतावनी और अंतर्राष्ट्रीय दबाव के कारण पाक को 36 घंटे के अंदर अभिनंदन को छोड़ना पड़ा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here