जब अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप बोले- नमस्ते, मोदी ने एक विनम्र चायवाले के तौर पर शुरुआत की

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपने पहले भारत दौरे पर आज अहमदाबाद पहुंचे। इस दौरान उनके साथ उनकी पत्नी और अमेरिका की प्रथम महिला मेलानिया ट्रंप भी पहुंची जहां पीएम मोदी ने उनका स्वागत किया। साबरमती आश्रम से ट्रंप का काफिला अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम पहुंचा, जहां ट्रंप और पीएम मोदी ने ‘नमस्ते ट्रंप’ कार्यक्रम को संबोधित किया। यह कार्यक्रम ‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम की तर्ज पर आधारित है, जो पिछले साल सितंबर में अमेरिका के ह्यूस्टन में आयोजित हुआ था।

भारत-अमेरिका के रिश्ते मजबूत होंगे-पीएम मोदी

संबोधन में पीएम मोदी ने इस दौरान कहा कि भारत-अमेरिका के रिश्ते मजबूत होंगे। पीएम ने ट्रंप को विलक्षण नेता बताया। उन्होंने कहा कि भारत ने  1500 पुराने कानून, तीन तलाक पर ना सिर्फ कानून बनाया बल्कि उसे खत्म भी किया। उन्होंने कहा कि भारत में हो रहे परिवर्तनों के बीच अमेरिका देश का सहयोगी बना। मोदी ने कहा कि भारत में डिजिटल इकॉनमी का विस्तार होगा, अमेरिका के लिए यहां निवेश का अवसर है। उन्होंने साथ ही कहा कि आज भारत न केवल सबसे अधिक उपग्रहों को एक साथ भेजने का विश्व रिकॉर्ड बना रहा है, बल्कि सबसे तेज वित्तीय समावेशन का विश्व रिकॉर्ड भी है।

भारत की जनता को नमस्ते बोलकर किया संबोधन शुरु

ट्रंप ने अपना संबोधन भारत की जनता को नमस्ते बोलकर किया। आगे ट्रंप ने कहा कि मुझे यह घोषणा करते हुए खुशी हो रही है कि कल हमारे प्रतिनिधि भारतीय सैन्य बलों के लिए अत्याधुनिक सैन्य हेलीकॉप्टरों और अन्य उपकरणों की पूर्ण उत्कृष्ट स्थिति में, अमेरिका 3 बिलियन डॉलर से अधिक के सौदे बेचने के लिए हस्ताक्षर करेंगे।

भारतीय किसी भी मुकाम पर पहुंच सकते हैं- ट्रंप

कहा अमेरिकी राष्ट्रपति ने ‘नमस्ते ट्रंप’ कार्यक्रम में मोदी के कार्यो का उल्लेख करते हुए कहा कि अगले 10 साल में आपके देश से अत्यधिक गरीबी दूर हो जाएगी। उन्होंने अपने भाषण की शुरूआत में कहा कि नमस्ते, यहां होना मेरे लिए बेहद सम्मान की बात है। उन्होंने कहा कि मोदी एक अद्भुत नेता हैं, भारत के लिए दिन-रात काम करते हैं। अमेरिका हमेशा भारत का एक वफादार और निष्ठावान मित्र रहेगा, भव्य स्वागत के लिए शुक्रिया। ट्रंप ने कहा कि मोदी ने एक विनम्र चायवाले के तौर पर शुरुआत की, उन्होंने चाय की एक दुकान में काम किया, वह इस बात का बेहतरीन उदाहरण हैं कि भारतीय किसी भी मुकाम पर पहुंच सकते हैं।

ट्रंप ने पीएम मोदी को लेकर कहा कि पीएम मोदी आप सिर्फ गुजरात के गौरव नहीं हैं, आप इस बात का सबूत हैं कि कड़ी मेहनत और निष्ठा के साथ, भारतीय कुछ भी हासिल कर सकते हैं, कुछ भी चाहते हैं। प्रधानमंत्री एक अविश्वसनीय वृद्धि की एक कहानी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here