जानिए क्या होता है लॉकडाउन, दुनिया में सबसे पहला लॉक डाउन यहां किया गया

कोरोना वायरस से लड़ने के लिए और बचाव के लिए केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों के 75 जिलों को लॉक डाउन के निर्देश जारी किए हैं।ये वो राज्य हैं जहां कोरोना पॉजीटिव केस सामने आए हैं। यहां आपातकालीन सेवाओं को छोड़कर सभी सेवाओं पर रोक लगा दी गई है। राजस्‍थान में सबसे पहले लॉक डाउन लागू किया गया। उसके बाद पंजाब और उत्‍तराखंड में लॉक डाउन करने की घोषणा की गई। इसके बाद दिल्‍ली में भी सोमवार सुबह 6 बजे से लॉक डाउन का ऐलान किया गया। लॉकडाउन के दौरान कोई भी ट्रेन नहीं चलेगी। साथ ही मेट्रो का परिचालन भी सीमित होगा। आइये जानिए आखिर क्या होता है लॉकडाउन।

क्या होता है लॉकडाउन जानिए?

लॉकडाउन एक आपदा व्यवस्था है जो किसी आपदा या एपिडेमिक स्थिति के वक्त सरकार द्वारा लागू की जाती है। लॉक डाउन में उस क्षेत्र के लोगों को घरों से बाहर न निकलने की अनुमति होती है। उन्हे सिर्फ दवा और राशन जैसी जरूरी चीजों के लिए ही बाहर आने की इजाजत होती है। लोग बैंक से पैसे निकालने भी जा सकते हैं। राजस्थान के इतिहास में पहली बार लॉक डाउन हुआ है।

दुनिया में सबसे पहला लॉक डाउन

दुनिया में सबसे पहला लॉक डाउन अमेरिका में 9/ 11 हमले के बाद किया गया था। ये एक आपातकालीन व्यवस्था है। सीधे शब्दों में लॉकडाउन’ का अर्थ है तालाबंदी. जिस तरह किसी संस्थान या फैक्ट्री को बंद किया जाता है और वहां तालाबंदी हो जाती है उसी तरह लॉक डाउन का अर्थ है कि आप अनावश्यक कार्य के लिए सड़कों पर ना निकलें। किसी तरह की परेशानी हो तो लोग संबंधित पुलिस थाने,जिला कलेक्टर,पुलिस अधीक्षक अथवा अन्य उच्च अधिकारी को फोन कर सकते हैं।

क्यों करते हैं लॉकडाउन?

किसी तरह के खतरे से इंसान और किसी इलाके को बचाने के लिए लॉकडाउन किया जाता है। जैसा की वर्तमान में कोरोना के प्रकोप को देखते हुए लोगों को घरों में रहने की अपील की गई है। स्कूल, कॉलेज, दफ्तर बंद करा दिए गए हैं। दुकानें बंद हैं बाजार बंद हैं केवल कुछ ही दुकानों को एक समय सीमा तर खुला रखने का आदेश है। कई जगहों पर तो लोगों को राशन और दूध की होमडिलीवरी दी जा रही है।

किन देशों में है लॉकडाउन?

चीन, डेनमार्क, अल सलवाडोर, फ्रांस, आयरलैंड, इटली, न्यूजीलैंड, पोलैंड और स्पेन में लॉकडाउन जैसी स्थिति है। चूंकि चीन में ही सबसे पहले कोरोनावायरस संक्रमण का मामला सामने आया था, इसलिए सबसे पहले वहां लॉकडाउन किया गया। इटली में मामला गंभीर होने के बाद वहां के प्रधानमंत्री ने पूरे देश को लॉकडाउन कर दिया। उसके बाद स्पेन और फ्रांस ने भी कोरोना संक्रमण रोकने के लिए यही कदम उठाया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here