सीएम के दबाव के बाद मजबूरी में विनय गोयल ने किया ‘घोंचू’ को पार्टी से बाहर

देहरादून : देहरादून में जहरीली शराब पीकर हुई 7 मौतों में भाजपा नेता अजय सोनकर उर्फ घोंचू का नाम सबसे पहले सामने आया था. वहीं सीएम के कड़े तेवर के बाद आज महानगर अध्यक्ष विनय गोयल ने मजबूरी में पार्टी से निष्कासित किया क्योंकि बड़ा सवाल यही उठ रहा है कि जिसके बारे में देहरादून का बच्चा-बच्चा जानता है कि अवैध कच्ची शराब कौन बेचता है और पुलिस जिसका वारंट हाथ में लिए घूमती रही तो क्या विनय गोयल या पार्टी के पदाधिकारी इस बात से, इस सच्चाई से वाकिफ नहीं थे?

अजय सोनकर उर्फ घोंचू सभी नेताओं और विधायकों को खुश रखता था

दुनिया जानती है कि घोंचू नकली शराब बेचता है और इतनी बार कार्रवाही हुई लेकिन क्या विनय गोयल को नहीं मालूम था कि भाजपा नेता ‘घोंचू’ जहरीली शराब बेच रहा है. हंसी की बात है कि जिस बात को बच्चा-बच्चा जानता है वो कैसे भाजपा पदाधिकारियों को नहीं पता थी. खबर है कि अजय सोनकर उर्फ घोंचू सभी नेताओं और विधायकों को खुश रखता था और चुनाव के समय में शराब बांटने की जिम्मेदारी भी घोंचू के कंधे पर थी.

पूरे शहर में लगे हुए थे एक विधायक के साथ पोस्टर 

सोचने वाली बात है कि जिस शराब माफिया घोंचू को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस वारंट लेकर बीते कई माह से घूमती रही, उसके पोस्टर शहर के एक विधायक के साथ पूरे शहर में लगे हुए थे..ये आरोपी को संरक्षण देना नहीं तो और क्या है। पथरिया पीर कांड में भी पुलिस ने घोंचू को ही मुख्य आरोपित बताया है। पोस्टर में घोंचू साथ खड़े विधायक को जन्मदिन की बधाई दे रहा था। उस वक्त सवाल उठे कि अगर घोंचू तड़ीपार है तो शहर में उसके पोस्टर कैसे और किसने लगाए।

उधारी पर चलता है अवैध धंधा

वहीं मौतों के बाद जानकारी मिली कि बस्तियों में अवैध शराब का धंधा उधारी पर चलता है। पथरिया पीर के निवासी एक युवक ने बताया कि धंधेबाज पूरे माह का हिसाब डायरी में रखते हैं। चूंकि, बस्ती में शराब पीने वाले बाजार में रोजाना नकद देने में सक्षम नहीं होते, इसलिए धंधेबाजों से ये लोग उधारी में शराब लेते हैं। हालात यह हैं कि उधारी की रकम न देने पर माफिया इनके घर-संपत्ति तक गिरवी रख लेते हैं।

वह आदमी चाहे धरती पर हो, पानी के नीचे या आकाश में हो हर हाल में पकङा जाना चाहिए-सीएम

आपको बता दें कि मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने गृह, आबकारी व पुलिस विभाग के अधिकारियों को  तलब किया. उन्होंने अधिकारियों से पथरिया पीर, देहरादून की घटना व इसके बाद की गई कार्यवाही की विस्तार से जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस पूरे मामले में जिस व्यक्ति का मुख्य अभियुक्त के तौर पर नाम आ रहा है, उसे जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए। वह आदमी चाहे धरती पर हो, पानी के नीचे हो या आकाश कहीं भी हो हर हाल में पकङा जाना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here