लापता व्यक्ति के लिए फरिश्ता बनी बड़कोट पुलिस, रात के अंधेरे में किया रेस्क्यू

बड़कोट: एक बार फिर से उत्तराखंड पुलिस ने वर्दी का फर्ज निभा कर लोगों का दिल जीता और एक परिवार की खुशियां लौटाई। जी हां ताजा मामला उत्तरकाशी के बड़कोट थाने का है, जहां उत्तरकाशी जिले की बड़कोट थाना पुलिस घर से लापता व्यक्ति के लिए फरिश्ता साबित हुई। बड़कोट पुलिस ने रात के अंधेरे में टॉर्च की लाइट में लापता व्यक्ति का रेस्क्यू किया।

दरअसल बीते दिन सोमवार देर शाम बड़कोट पुलिस को उपराड़ी गांव के सुशील बेलवाल के लापता होने की सूचना मिली थी। पुलिस को बताया गया कि लापता व्यक्ति मानसिक रुप से विकृत है। उसके पास फोन भी है लेकिन कई बार फोन करने पर उसने फोन नहीं उठाया  और अब फोन स्विच ऑफ आ रहा है।

पुलिस को व्यक्ति के घर से कहीं चले जाने की सूचना शाम चार बजे मिली थी। ग्रामीणों और परिजनों ने उनकी तलाश की, लेकिन नहीं मिल पाया। बड़कोट थाने से पुलिस टीम का गठन कर उसकी तलाश के लिए भेजी गई। साथ ही लापता व्यक्ति की फोन लोकेशन भी निकाली गई, लापता व्यक्ति की लास्ट फोन लोकेशन राजगढ़ी पाई गई।

वहीं पुलिस टीम को लीड कर रहे सब इंस्पेक्टर सतबीर भंडारी ने सबसे पहले वाहन चालकों और स्थानीय लोगों से लापता के बारे में अपनी टीम के साथ जानकारी जुटाई।

कुछ जानकारी मिलने के बाद पुलिस उस दिशा में आगे बढ़ी। पूरी रात तलाश करने के दौरान पुलिस को किसी तरह उसके फोन की लोकेशन उत्तरकाशी को जाने वाले रास्ते में पड़ने वाले डंडालगांव के आसपास मिली। बारिश और बर्फबारी के कारण इन दिनों में बिजली आपूर्ति भी ठप है। ऐसे में पुलिस के सामने दोहरी चुनौती थी, लेकिन पुलिस ने देर रात करीब 10.15 बजे उसे सकुशल खोज निकाला। पुलिस टीम में सब इंस्पेक्टर सतबीर भंडारी के साथ कांस्टेबल दिनकर बड़थ्वाल, मनवीर भंडारी और सुमित बांैठियाल शामिल रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here