उत्तराकाशी एवलांच में मरने वालों की संख्या 26 पहुंची, निम प्रबंधन पर परिजनों ने उठाए सवाल

uttarkashi avalanch 1उत्तरकाशी में आए एवलांच में मरने वालों की संख्या 26 हो गई है। राहत कार्य में लगी टीमों ने 26 पर्वतारोहियों के शव बरामद कर लिए हैं। 3 लोग अब भी लापता बताए जा रहें हैं।

शुक्रवार को सुबह फिर एक बार रेस्क्यू ऑपरेशन शुरु किया गया था। गुलमर्ग से आई HAWS की टीम कल ही घटनास्थल पर पहुंच चुकी थी। उसने और अन्य टीमों ने रेस्क्यू ऑपरेशन शुरु किया। इस रेस्क्यू के दौरान आज कुछ अन्य शव बरामद किए गए। अब तक कुल 26 शव बरामद हो चुके हैं। इनमें से कई शवों को उत्तरकाशी लाया जा चुका है।

खराब मौसम लगातार चुनौती बना हुआ है। बारिश और बर्फबारी के चलते बचाव कार्य में मुश्किलें आ रहीं हैं। वायुसेना, आईटीबीपी, एनडीआरएफ और एसडीआरएफ के साथ ही गुलमर्ग के हाई एल्टीट्यूज वॉरफेयर स्कूल की विशेष प्रशिक्षित टीम राहत कार्यों में लगाई गई है। हेलिकॉप्टर्स की लैंडिग के लिए विशेष हेलीपैड भी बनाया गया है।

वहीं पर्वतारोहियों के परिजन निम से नाराज हैं। मृतकों के परिजनों ने मातली हैलीपैड पर पहुंचे लापता पर्वतारोहियों के परिजनों ने जिला प्रशासन और निम प्रशासन पर ठीक-ठीक जानकारी नहीं देने का आरोप लगाया है। मृतकों के परिजनों ने पूछा है कि जब मौसम खराब होने की चेतावनी थी तो लोगों को पर्वतारोहण के लिए क्यों भेजा गया?

जानकार बता रहें हैं कि अब किसी के बचने की उम्मीद न के बराबर बची है। लगातार हो रही बर्फबारी से फंसे लोगों को सकुशल निकालना संभव नहीं हो पाएगा। आशंका जताई जा रही है कि अधिकतर पर्वतारोही किसी क्रेवॉश यानी गहरी खाई में फंस गए हैं और वहां से निकल नहीं पा रहें हैं। लगातार पड़ती बर्फ उन्हें ऊपर से ढंकती जा रही है। ऐसे में किसी का बच पाना मुश्किल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here