VIDEO : हर मुसीबत में श्रद्धालुओं की हिम्मत बन रही उत्तराखंड पुलिस की SDRF टीम

उत्तराखंड में चारों धामों में यात्रियों की तादाद दिनों दिन बढ़ रही है केदारनाथ बद्रीनाथ गंगोत्री यमुनोत्री में यात्रियों के पहुंचने का सिलसिला लगातार जारी है. चारों धाम में अभी तक हजारों की तादात में यात्रियों ने दर्शन कर लिए हैं लेकिन इन सबके बीच चारों धाम में बारिश और बर्फबारी ने यात्रियों को मुसीबत में डाला हुआ है. मौसम विभाग की मानें तो अगले 3 दिनों में भारी बारिश और बर्फबारी की संभावना है तो वहीं गंगोत्री और यमुनोत्री में रुक रुक का बारिश जारी है.

केदारनाथ में हो रही बर्फबारी, श्रद्धालुओं की मुश्किलें बढ़ी

केदारनाथ धाम के कपाट खुलते ही बर्फबारी भी रुक रुक केदार घाटी में हो रही है. सुबह का वक्त हो या शाम का समय बारिश और बर्फबारी ने श्रद्धालुओं को मुश्किल में डाल रखा है. हालांकि बच्चे महिलाएं युवा और बुजुर्ग सभी बाबा के दरबार में दर्शन करने के लिए किसी भी परिस्थिति को पार करने के लिए लगातार उत्सुक दिखाई दे रहे हैं लेकिन जिस तरह से केदार घाटी में बर्फबारी हो रही है उससे श्रद्धालुओं की मुश्किलें भी फ़िलहाल कम होती नहीं दिखाई दे रही है लेकिन श्रद्धालुओं की तादात दिनों दिन बाबा के दर्शनों के लिए बढ़ रही है.

बर्फीले रास्ते में फिसलने का डर

गौरीकुंड तो या रामबाड़ा या केदारनाथ धाम हर तरफ भारी तादात में श्रद्धालु बाबा के दर्शन करने पहुंच रहे हैं , ऐसे में केदार घाटी के रास्ते पर तैनात एसडीआरएफ के जवान लोगों की मुश्किलों को दूर करने के लिए तत्पर डटे हैं बर्फबारी या अन्य मुश्किलों में एसडीआरएफ के जवान श्रद्धालुओं को कंधे में बिठाकर या अन्य साधनों में बिठाकर केदारनाथ धाम तक सुरक्षित स्थान तक पहुंचाने में पूरी मदद कर रहे हैं, एसडीआरएफ की टीम ने अभी तक कई लोगों को सुरक्षित स्थान तक पहुंचाने में पूरी मेहनत की है क्योंकि बर्फीले रास्तों में  बच्चे, वृद्ध, महिलाएं, कई बार फिसलकर चोटिल हो रहे हैं, लेकिन यह एसडीआरएफ के जवान उन्हें सुरक्षित स्थानों तक पहुंचाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहे हैं.

ऐसे में जहां बाबा के धाम में लगातार बर्फ़बारी हो रही है तो श्रद्धालुओं को यात्रा करने में मुसीबत आ रही है तो एसडीआरएफ की मेहनत से श्रद्धालुओं में हिम्मत बनती हुई दिखाई दे रही है और वह मुसीबतों के बीच भी बाबा केदार के धाम में दर्शन करने पहुंच रहे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here