कोरोना के कहर से बच आई उत्तराखंड की रिसर्च स्कॉलर, ख़ुशी से भर आई परिजनों की आंखें

चम्पावत: इन दिनों चीन में कोरोना वायरस का कहर बरपा हुआ है। चीन में अब तक 21 सौ से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि ये सरकारी आंकड़े हैं। मरने वालों की संख्या कई हजार बताई जा रही है। चीन के एक यूनिवर्सिटी में रिसर्च कर रही चंपावत जिले की एक छात्रा के गुरुग्राम में हुए परीक्षण में कोरोना की पुष्टि न होने के बाद उसे घर भेजने के लिए हरी झंडी दी गई। अपनी बेटी को सकुशल अपने बीच पाकर उसके परिजनों के खुशी के आंसू छलक पड़े।

लोहाघाट के कारोबारी की बेटी करीब पांच माह पूर्व रिसर्च के लिए चीन के युआन जी विश्वविद्यालय गई थी। इस बीच कोरोना वायरस ने चीन सहित दुनिया में हाहाकार मचा दिया। जनवरी के अंत में चीन से दिल्ली पहुंचने के बाद इस छात्रा सहित 240 अन्य यात्रियों को 20 दिन तक गुरुग्राम आर्मी अस्पताल में सघन निगरानी में रखा गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here