उत्तराखंड की बेटी बनी सैन्य अधिकारी, जम्मू कश्मीर में पहली पोस्टिंग

चंपावत : लोहाघाट विकासखंड के खूना बोरा गांव की बेटी मनीषा सेना में अधिकारी बन गई है. उत्तराखंड की बेटी मनीषा अब बॉर्डर में रहकर देश की रक्षा करेंगी. उत्तराखंड की बेटी अब सेना में जाकर देश की रक्षा करने के लिए आगे बढ़ रही हैं. अब उत्तराखंड की बेटियां भी बेटों के साथ हाथ में रायफल लिए दुश्मनों के छक्के छुड़ाने को तैयार हैं.

पिता दिनेश सिंह बोहरा सेना में सूबेदार 

ऐसा ही करने का जज्बा लिए सेना में अधिकारी बनी मनीषा के परिवार और गांव में खुशी का माहौल है। आपको बता दें कि मनीषा खूना बोरा गांव की पहली सैन्य अधिकारी बनीं हैं। जानकारी मिली है कि मनीषा को चेन्नई में एक वर्ष कड़ी ट्रेनिंग के बाद जम्मू कश्मीर के बारामूला में पोस्टिंग मिली है। पिता दिनेश सिंह बोहरा सेना में सूबेदार रैंक में हैं.

सीडीएस की परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद ओटीसी चेन्नई में एक वर्ष की ट्रेनिंग

मनीषा के चाचा और भाजपा जिला महामंत्री नवीन बोहरा ने बताया कि मनीषा ने विगत वर्ष सीडीएस की परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद ओटीसी चेन्नई में एक वर्ष की ट्रेनिंग की। गत सात सितंबर को चेन्नई में हुई पासिंग आउट परेड में मनीषा के दादा हयात सिंह बोहरा, दादी बसंती देवी, पिता दिनेश सिंह, मां गोदावरी देवी, भाई अरविंद बोहरा ने मनीषा के कंधों में सितारे लगाकर उसका स्वागत किया। मनीषा की प्रारंभिक शिक्षा मानेश्वर पब्लिक स्कूल खूनाबोरा में हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here