उत्तराखंड की सबसे बड़ी चिंता : पहाड़ पर कोरोना की रफ्तार तेज, मैदान के बड़े जिलों से आगे

देहरादून : उत्तराखंड में कोरोना की रफ्तार लगातार बढ़ रही है। पहाड़ से मैदान तक कोरोना लोगों को अपने कब्जे में ले रहा है। इस बड़ी चिंता की बात यह है कि कोरोना की रफ्तार ने मैदानी जिलों को पीछे छोड़ दिया है। पहाड़ी जिलों में कोरोना पिछले कुछ दिनों से कोरोना बहुत तेजी से बड़ रहा है।

बड़ी बात यह है कि टिहरी, नैनीताल और बागेश्वर जिलों के कोरोना संक्रमण दर सेबसे ज्यादा है। तीनों ही जिले संक्रमण के हिसाब से प्रदेश में पहले तीन स्थान पर है। इन तीन पहाड़ी जिलों के मुकाबले राजधानी देहरादून, ऊधमसिंह नगर, और हरिद्वार जिलों में संक्रमण की रफ्तार काफी कम है। स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार 15 मार्च से 15 जून तक प्रदेश में 40 हजार से अधिक कोविड सैंपलों की जांच की गई है।

सैंपल जांच के आधार पर प्रदेश में संक्रमण दर का औसत 4.54 प्रतिशत है। टिहरी जिला सबसे आगे है। 2614 सैंपलों की जांच में 294 संक्रमित मिले। संक्रमण की दर 11.25 प्रतिशत है। वहीं, दूसरे स्थान पर नैनीताल जिले में 8.19 प्रतिशत और बागेश्वर जिले में संक्रमण की दर 7.30 प्रतिशत है। ऊधमसिंह नगर में 2.21 प्रतिशत, हरिद्वार में 3.26 प्रतिशत और देहरादून जिले में 3.35 प्रतिशत संक्रमण की दर है। जानकारों की मानें तो मैदानी जिलों में सैंपलिंग में तेजी लाई जानी चाहिए

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here