उत्तराखंड में कोरोना जैसा पहला मामला, अलर्ट पर सभी सरकारी और प्राइवेट अस्पताल

देहरादून: उत्तराखंड में कोरोना वायरस ने दस्तक दे दी है। हालांकि अब तक मामले की पुष्टि नहीं हो पाई है। चीन से लौटी एमबीबीएस की छात्रा को एम्स में भर्ती कराया गया है। उसके सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। एम्स प्रशासन की मानें तो छात्रा की रिपोर्ट चार दिन में आ जाएगी। स्वास्थ्य विभाग ने प्रदेश के सभी सरकारी और निजी अस्पतालों को अलर्ट पर रखा गया है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. मीनाक्षी जोशी ने बताया कि जांच रिपोर्ट आने के बाद ही सही जानकारी पता चल पाएगी। उन्होंने कहा कि एहतियात के तौर पर सभी निजी और सरकारी अस्पतालों को अलर्ट पर रखा गया है। दून अस्पताल की इमरजेंसी में कोरोना की संदिग्ध युवती के उपचार को पहुंचने से अस्पताल के कर्मचारी भी घबराए हुए नजर आए।

एम्स निदेशक डाॅ.रवि कांत का कहना है कि युवती को एहतियातन लगातार माॅनिटर किया जा रहा है। जांच के लिए सेंपल भेज दिए गए हैं। अगले चार दिनों के भीतर जांच रिपार्ट सामने आ जाएगी। उसके बाद ही साफ हो पाएगा कि युवती में कोरोना वायरस है या नहीं। साथ ही कहा कि एम्स में कोरोना से निपटने के लिए पर्याप्त संसाधन और दवाएं हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here