बिना आदेश के ही MD की कुर्सी पर जमाए थे पैर, सीएम ने निकाली हेकड़ी

देहरादून : बगैर आदेश के अपनी मनमर्जी चलाने का मुहतोड़ जवाब ब्रिडकुल के एमडी मनोज सेमवाल को सीएम ने दिया। जी हां बिना आदेश के मनमाफिक ब्रिडकुल के एमडी की कुर्सी पर बैठे मनोज सेमवाल की प्रतिनियुक्ति बढ़ाने की पत्रावली पर सीएम ने ‘NO’ लिखकर उनको करार जवाब दिया और बताया कि नियम तोड़ने को कतई बरदास्त नहीं किया जाएगा। सब कुछ नियम के अनुसार होगा। इसकी के मद्देनजर अब मनोज सेमवाल को अपने मूल विभाग रेलवे में जाना होगा।

31 जनवरी को खत्म हो गया था कार्यकाल

बता दें कि कांग्रेस शासन के दौरान रेलवे से प्रतियुक्ति पर ब्रिडकुल के एमडी बने मनोज अग्रवाल का कार्यकाल 31 जनवरी को खत्म हो गया था लेकिन इसके बावजूद वो एमडी की कुर्सी छोड़ने को राजी नहीं हुए और पैर जमाए रखे जिसे सीएम ने मजा चखाया और सभी शासन के अधिकारियों को एक संदेश दिया कि मनमर्जी नहीं चलेगी।

कुर्सी पर बैठकर फाइनेंशियल पावर का इस्तेमाल कर रहे थे मनोज

बता दें कि मनोज सेमवाल कार्यकाल खत्म होने के 20 दिन बाद भी एमडी की कुर्सी पर बैठकर फाइनेंशियल पावर का इस्तेमाल कर रहे हैं जिसका मुख्यमंत्री कार्यालय ने संज्ञान लिया और सेमवाल को हेकड़ी का जवाब दिया। जी हां बीते दिन सेमवाल के शासन में बैठे पैरोकारों की ओर से तैयार की गई एक्सटेंशन की फाइल पर सीएम ने ना लिख दिया। जिसके बाद अब एमडी की कुर्सी छोड़ मनोज सेमवाल को अपने मूल विभाग रेलवे में जाना होगा अन्यथा कार्रवाई की जाएगी।

1 COMMENT

  1. आप सेमवाल ओर अग्रवाल को मिक्स मत करे ,भारी राजनीति है ,

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here