उत्तराखंड : गश्त पर निकले वनकर्मी पर बाघ ने किया हमला, साथियों ने ऐसे बचाई जान

कोटद्वार : कार्बेट टाइगर रिजर्व के अंतर्गत कालागढ़ की अदनाला रेंज में साथियों के साथ गश्त पर निकले वनकर्मी पर अचानक बाघ ने हमला कर दिया जिसमे वो गंभीर रुप से घायल हो गए हैं। उनके साथियों ने उनको कोटद्वार बेस चिकित्सालय में भर्ती कराया है जहां उनका इलाज जारी है।

मिली जानकारी के अनुसार वन दरोगा जीतेंद्र नेगी के नेतृत्व में 5 कर्मियों का दल अदनाला रेंज से मुंडियापानी बीट के हलगढ़ी कक्षा संख्या 12 में गश्त पर निकले थे कि तभी वनकर्मी संपूर्णानंद पर झाड़ी से निकलकर एक बाघ ने हमला कर दिया। मौके पर मौजूद अन्य कर्मियों ने शोर मचाया तो बाघ वनकर्मी को छोड़कर जंगल में भाग गया। लेकिन थोड़ी देर बाद एक बार फिर से बाघ ने संपूर्णानंद पर दुबारा हमला कर दिया। बाघ उनके उसके पैर को अपने जबड़े में जकड़ कर झाड़ियों की ओर खींचने लगा। जिस पर दूसरे वनकर्मियों ने हवाई फायरिंग शुरू कर दी, फायरिंग की आवाज सुनकर बाघ भाग गया लेकिन वनकर्मी बुरी तरह जख्मी हो गया।

मिली जानकारी के अनुसार टाइगर रिजर्व से सटे गांवों और आबादी क्षेत्रों के निवासी क्षेत्र में निरंतर बढ़ रही बाघ की चहलकदमी से दहशत में है। अब गांव वालों के साथ वनकर्मी भी अपनी सुरक्षा के प्रति चिंतित हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here