रुड़की के छात्र देवांश का कमाल, कूड़ा भर जाने पर डस्बिन खुद करेगा सफाईकर्मी को फोन

रुड़की : जब सोच बड़ी हो कुछ कर दिखाने का अलग जज़्बा हो तो सब कुछ सम्भव है। ऐसा ही कमाल रुड़की के होनहार छात्र ने कर दिखाया है। छात्र ने एक ऐसा सॉफ्टवेयर बनाया है जिससे डस्टबिन कूड़ा भर जाने के बाद स्वयं सफाई कर्मी को कॉल कर देगा।

दरअसल केंद्रीय विज्ञान व प्रौद्योगिकी मंत्रालय के ‘राष्ट्रीय नवप्रवर्तन प्रतिष्ठान’ द्वारा आयोजित ऑनलाइन प्रतियोगिता में ग्रीनवे मॉडर्न स्कूल के कक्षा आठ के छात्र देवांश भारद्वाज के प्रोजेक्ट स्मार्ट डस्टबिन का चयन जिला स्तरीय प्रतियोगिता के लिए हुआ है। उत्तराखंड माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रदेश उपाध्यक्ष व नॉर्दन रेलवे सलाहकार समिति के सदस्य प्रदीप कुमार के बेटे देवांश भारद्वाज ने सार्वजनिक स्थानों,रेलवे स्टेशन,बस स्टैंड व कार्यालयों के लिए उपयोगी एक “स्मार्ट इलेक्ट्रॉनिक डस्टबिन” तैयार किया है। जो भरने के उपरांत विसिल एवं फोन कॉल के द्वारा संबंधित सफाई कर्मचारियों को स्वयं ही सूचित करेगा। उनके इस मॉडल का चयन जिला स्तरीय प्रतियोगिता हेतु किया गया है। जिसके तहत केंद्र सरकार द्वारा छात्र को दस हजार रुपये भी दिये गए हैं। देवांश भारद्वाज ने इसके लिए अपनी प्रधानाचार्य माला चौहान,विज्ञान शिक्षिका मुक्ता जैन व विक्रांत माहेश्वरी को श्रेय दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here