उत्तराखंड : गाने पर गरमायी सियासत, एक षड़यंत्र के तहत सीएम पर गाना गया-भाजपा

देहरादून- उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जहां दिन रात एक करके इंवेस्टर समिट को सफल बनाने के लिए देश के साथ विदेशों में दौरे कर रहे हैं, वहीं मुख्यंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत पर बने एक गाने ने उत्तराखंड कि सियासत को गर्म कर दिया है, जिसे हर कोई नफा-नुकसान के तौर पर देख रहा है।

गाने के जरिए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की छवि को खराब करने के कोशिश की गई

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अपनी छवि भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ने वाली बेशक बना दी हो लेकिन एक गढ़वाली गाने के जरिए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की छवि को खराब करने के कोशिश की गई है…ये कहना उत्तराखंड भाजपा का है…जी हां मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिह रावत पर एक गढ़वाली गाने सामने आया है, जिसेमें मुख्यमंत्री को सोया हुआ मुख्यमंत्री बताया गया है। जिसको लेकर बीजेपी ने आपत्ति दर्ज की है। बीजेपी का कहना कि जो गाना मुख्यमंत्री पर गाया गया है उसे मुख्यमंत्री की छवि को धुमिल करने की कोशिश की गई है, इसलिए बीजेपी इस मामले में एक्शन लेकर कार्रवाई करेगी।

एक षड़यंत्र के तहत मुख्यमंत्री पर गाना गया है

बीजेपी की मानें तो एक षड़यंत्र के तहत मुख्यमंत्री पर गाना गया है,जिसमें एक किरादार कांग्रेस भी नजर आ रही है,क्योंकि गाने के जरिए कांग्रेस भी मुख्यमंत्री की छवि को खराब करने की कोशिश कर रही है।

गाना गाने वाले लोक गायक के साथ खड़ी कांग्रेस ,सड़कों पर उतरेगी

कांग्रेस जहां गाने के जरिए मुख्यमंत्री पर हमलावर नजर आ रही है, वहीं भाजपा ने गाना बनाने के लिए कांग्रेस पर आरोप मढ़ दिया है, तो गाना गाने वाले लोेकगायक पवन सेमवाल पर भाजपा सत्ता की हनक दिखाकर कार्रवाई करने की बात कर रही है। लेकिन गाना गाने वाले लोक गायक के साथ कांग्रेस साथ खड़े होने की बात कर रही है…कांग्रेस का कहना कि बीजेपी सरकार अगर गायक पर कार्रवाई करती है तो कांग्रेस सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतरेगी।

एनडी तिवारी औऱ निशंक पर भी हो चुके हैं गाने के जरिए वार

उत्तराखंड में ये पहला मौका नहीं है,जब मुख्यमंत्री पर गाना बना हो उत्तराखंड के पहले नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री एनडी तिवारी और रमेश पोखरियाल निशंक पर भी लोक गायक नरेंद्र सिंह नेगी अपने गानों के जरिए हमला कर चुके हैं, लेकिन ये पहला मौका है जब नरेंद्र सिंह नेगी को छोड़ कर किसी अन्य गायक ने सीधे सीएम पर अपने गाने के जरिए तंज कसा है और सत्ताधारी दल गायक पर को नसीहत सिखाने की बात कर रहा हो, ऐसे में देखना यही होगा कि बीजेपी इस मामले में सही में कार्रवाई करती है।

1 COMMENT

  1. Sahi kiya bhai us gayak ne kam se km jab CM sahab tak wo gana pahunchega to unhe pata chalega ki uttarakhand ki janta unko kya samjhti hai…sachme soye huye hi hain wo

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here