उत्तराखंड : इस दीपावली महिलाओं की बनाई लड़ियों से रोशन होंगे घर, चाइनीज को कहें ना

 

कालाढूंगी : दीपावली की तैयारियां जोरों पर हैं। हालांकि कोरोना का असर भी बाजार पर नजर आ रहा है। बावजूद बाजार सजने लगा है। बाजार में दीपावली के त्योहार को खूबसूरत बनाने वाले सामानों की सजावट नजर आ रही है। दीपों के इस त्योहार पर लोग अपने घरों को दीयों की रोशनी से रोशन करते हैं, लेकिन लाइट की लड़ियों ने उस रौनक को कम कर दिया। चाइनीज लड़ियां आज भी तमाम प्रयासों के बाद भी बाजार पर कब्जा जमाए हुए हैं।

लेकिन, इस दीपावली नैनीताल जिले के कोटाबाग ब्लाॅक की महिला स्वयं सहायता समूहों की बनाई रंगीन बल्बों की झालरें इस बार दीपावली के मौके पर लोगों के घरों को रोशन करेंगी। सस्ती और टिकाऊ झालरों को महिला कलस्टर लेबल फैडरेशन में काम कर रही 14 महिला स्वयं सहायता समूह में काम कर रही महिलाएं बना रही हैं। इसके जरिये 40 महिलाओं को रोजगार मिला है।

झालरों का निर्माण एलईडी ग्रोथ सेन्टर के जरिये हो रहा हैै। पहले से इलेक्ट्राॅनिक के काम में परंगत महिलाओं से अन्य महिलाओं ने केवल चार माह में काम सीखा और झालर निर्माण शुरू कर दिया। एलइडी बल्ब निर्माण ग्रोेथ सेन्टर का मुख्य उददेश्य महिलाओं को अपनी घरेलु दिनचर्या कार्यो के साथ ही परिवार की आर्थिकी मजबूत करना है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय ग्रामीण मिशन एक महत्वाकांक्षी मिशन है, जिसका उददेश्य ग्रामीण परिवारों को संगठित कर उन्हे रोजगार के स्थायी अवसर उपलब्ध कराना हैै।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here