मैदानी क्षेत्र में बढ़ी पहाड़ी फलों की डिमांड, लोगों को भा रहा आडू-काफल का स्वाद

हल्द्वानी : उत्तराखंड की पहाड़ी वादियों में पैदा होने वाले फलों का स्वाद अब मैदानी क्षेत्र में पहुंचने लगा है। नैनीताल और अल्मोड़ा क्षेत्र में विकसित की गई फल पट्टी से आडू, खुमानी, पुलम, काफल, और लीची मैदानी क्षेत्र में लोगों का स्वाद बढ़ा रही है हालांकि इस बार पहाड़ी फलों की पैदावार बेहतर हुई थी, लेकिन बीच में हुई ओलावृष्टि और बरसात ने किसानों की फसलों को काफी नुकसान पहुंचाया है.

पहाड़ी फलों का मैदानी क्षेत्र में बेहतर दाम मिल रहा है लेकिन उत्पादकता कम होने की वजह से किसान मायूस भी हैं, रोजाना 2 करोड़ रुपए के पहाड़ी फल और सब्जी हल्द्वानी मंडी में पहुंच रहै हैं.

फल सब्जी आढ़ती एसोसिएशन के अध्यक्ष जीवन सिंह कार्की का कहना है की गर्मी में पहाड़ी फलों की डिमांड मैदानी इलाकों में दूर-दूर तक होती है,लिहाजा किसानों को दाम तो बेहतर मिल रहे हैं लेकिन उत्पादन कम होने की वजह से इस वर्ष किसानों को बहुत नुकसान हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here