उत्तराखंड : कोविड कर्फ्यू में ढील से बढ़ी टेंशन, ये है पुलिस का प्लान

देहरादून : कोरोना के मामले कम होने के बाद अब राज्य सरकार भी कोविड कर्फ्यू में ढील देनी शुरू कर दी है। राज्य सरकार द्वारा 29 जून तक कोविड़ कर्फ्यू तो लागू किया है, लेकिन कोविड कर्फ्यू में आम जनता को काफी अधिक छूट दे दी है। कोविड कर्फ्यू के दौरान राज्य सरकार ने पांच दिन सुबह 8 बजे से 5 तक बाजार की सभी दुकानें खुलेगी। लेकिन, इस कोविड कर्फ्यू में दी गई छूट के बाद अब कोरोना संक्रमण का खतरा भी अधिक होता जा रहा है।
राज्य सरकार द्वारा दी छूट के बाद बाज़ारो में भीड़ बढ़ती जा रही है, ऐसे में पुलिस के सामने बाज़ारो में कोरोना की गाइडलाइन का पालन करवाने के लिए चुनौती भी है। हालांकि पुलिस द्वारा बाज़ारो में पुलिस बल को तैनात किया हुआ और दुकानदारों के साथ ग्राहकों को गाइडलाइन का पालन करवाने के लिए अपील करते है, वही राज्य सरकार द्वारा आम जनता को 5 बजे तक ढील दी गई है तो पांच बजे के बाद पुलिस द्वारा कोविड़ कर्फ्यू को लेकर सख्ती भी बरती जाएगी।
पुलिस विभाग और जिला प्रशासन द्वारा लगातार कोविड़ कर्फ्यू के दौरान गाइडलाइन का पालन करवाने के लिए अपील के साथ चलानी प्रक्रिया कर रही थी, लेकिन उस समय तक सिर्फ बाजार हफ्ते में तीन दिन ही खुल रहा था। लेकिन अब नई गाइडलाइन के अनुसार बाजार हफ्ते में 5 दिन खुलने है तो ऐसे में बाज़ारो में भीड़ बढ़ेगी तो कोरोना संक्रमण का खतरा भी लगातार बढ़ता जाएगा।ऐसे में पुलिस बल द्वारा बाज़ारो में गाइडलाइन कराना भी एक चुनोती रहने वाली है।
एसएसपी योगेंद्र सिंह रावत ने बताया कि कोविड़ कर्फ्यू के दौरान जिस समय बाजार खुले हुए है, तो उस समय आवागमन में कोई प्रतिबंधित नही है। इसलिए हमारा मुख्य फोकस बाज़ारो में सोशल डिस्टेसिंग का ध्यान रखना है। लेकिन, शाम 5 बजे के बाद कोविड कर्फ्यू लागू हो रहा है। उसके बाद कि गतिविधियों पर ध्यान रखा जाएगा, जिसमें जनपद के मुख्य चोरोहो पर बैरियर लगातार पुलिस बल को तैनात किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here