उत्तराखंड: स्मार्ट सिटी ने रोका पार्किंग का रास्ता, पुलिस काट रही चालान

 

File

देहरादून: सुस्त गति से चल रहा स्मार्ट सिटी का कार्य जनता पर भारी पड़ रहा है। स्मार्ट सिटी के कार्यो के दौरान चल रहे निर्माण के बीच गाड़ियों की कोई वैकल्पिक व्यवस्था भी नहीं बनाई गई है। सड़क किनारे वाहन खड़ा करना कई लोगों को महंगा पड़ रहा है। पुलिस उनके चालान काट रही है। लोगों की मानें तो जिम्मेदार अधिकारियों के द्वारा पार्किंग के कोई इंतजाम नही किये गए हैं।

ऐसे में कॉम्प्लेक्स में कार्य कर रहे व्यपारियों के पार्किंग स्थल तक पहुँचने के सभी रास्ते बाधित हैं। मजबूरन उनको सड़कों के किनारे गाड़ियां खड़ी करनी पड़ रही हैं। वहीं, एसपी सिटी से लोगों का कहना है की पार्किंग में ही अपनी गाड़िया पार्क की जायें, लेकिन जब स्मार्ट सिटी के काम के चलते पार्किंग बंद पड़ी है तो लोग अपनी गाड़िया कहा खड़ी करेंगे और अगर लोग अपनी गाड़िया इधर-उधर खड़ा करते है तो पुलिस अपनी मनमानी चलाते हुए गाड़ियों का चालान कर देती है।

देहरादून में स्मार्ट सिटी के कार्य के बीच लोगो की मुश्किलें भी बढ़ने लगी हैं। आलम यह है की सड़कों के किनारे स्मार्ट सिटी के कार्यो के चलते लोगों को काम्प्लेक्स की पार्किंग स्थल तक पहुँचने के लिए रास्ते बाधित हैं। लोगों के पास सड़कों पर वाहन खड़ा करने के अलावा कोई विकल्प नही है और सड़कों पर गाड़ी खड़ी करना कोरोना काल मे लोगों पर भारी है। गाड़ी खड़ी करने पर 500 रुपये तक का चालान पुलिस काट रही है।

लोगों का कहना है कि स्मार्ट सिटी के कार्य के साथ साथ सरकार और प्रशासन को व्यवस्थाओं को दुरुस्त करना चाहिए, ताकि लोगों को चालान से छुटकारा मिल सके। वहीं, दूसरी तरफ पुलिस प्रशासन के मानें तो पार्किंग के लिए नियत किए गए स्थान पर ही लोग अपने वाहन खड़े करें, नहीं तो कार्यवाही की जाएगी। एसपी सिटी सरिता डोभाल का कहना है की की सभी पार्किंग में ही अपनी गाड़ियों को पार्क करेंगे और अगर गाड़िया पार्किंग में नही खड़ी की जाएंगी तो उनके खिलाफ चलान की कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here