उत्तराखंड सड़क हादसा : बच्चों के सिर से उठा पिता का साया, मां को 4 साल पहले खो चुके हैं

सितारगंज के सिडकुल रोड पर सिसौना के पास एक डंपर ने मोटरसाइकिल से जा रहे विरेंदर सिंह निवासी साधुनगर (उम्र 40 वर्ष) को टक्कर मार दी जिससे मोटरसाइकिल सबार विरेंदर की मौके पर ही मौत हो गई। परिजनों ने मौके पर पहुंचकर सड़क को जाम कर दिया। मौके पर पुलिस प्रशासन ने पहुंचकर लगभग 3 घंटे की परिजनों की सहमति के बाद जाम को खुलवाया।

सितारगंज सिडकुल रोड पर सिसौना के पास विरेंद्र सिंह उम्र 40 वर्ष की डंपर ने जोरदार टक्कर मार दी जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई. ये खबर सुन मृतक के परिजन और आसप पड़ोसी मौके पर पहुंचे और जमकर हंगामा कर सड़क जाम की। मृतक के रिश्तेदारों और पड़ोसियों ने मृतक के परिवार को मुआवजा देने की मांग की और रोड को जाम किया। मौके पर पहुंचे पुलिस प्रशासन ने परिजनों से बात कर जाम को खुलवाया।

4 साल पहले हो गई थी पत्नी की मौत

बता दें कि विरेंद्र सिंह सिसौना में किराए के मकान में रहता है। रोज की तरह मजदूरी के घर से निकला था। विरेंदर सिंह अपने पीछे एक बेटा और बेटी को अकेला छोड़ गया। विरेंदर की पत्नी का भी 4 साल पहले ही मौत हो गई थी। ऐसे में परिजनों ने पुलिस प्रशासन से परिवार को घर की जमीन और  मुआवजा देने की मांग की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here