उत्तराखंड : मानसिक रूप से कमजोर गर्भवती महिला से कई बार रेप, बाबा शक के घेरे में

देहरादून : उत्तराखंड में दुष्कर्म के मामलों में लगातार इजाफ हो रहा है और सबसे ज्यादा दुष्कर्म पीड़िता नाबालिग ही हैं. वहीं बात करें देहरादून की तो आए दिन देहरादून में कई रेप के मामले सामने आते रहे हैं जिसके चलते उत्तराखंड में दाग लगाने का काम आऱोपियों ने किया है.

शक के घेरे में एक बाबा

वहीं ये मामला अभी थमा नहीं है बल्कि देहरादून से एक बार फिर मानवता को शर्मसार करने वाला मामला आज सामने आया है. जिसमें आरोपी ने मानसिक रूप से कमजोर एक गर्भवती महिला को अपना शिकार गया. वहीं इस मामले में एक बाबा शक के घेरे में है.

मानसिक रुप से कमजोर महिला के साथ रेप, दे चुकी है बच्चे को जन्म

जी हां मामला देहरादून के सेलाकुई का है…मिली जानकारी के अनुसार मानसिक रुप से कमजोर महिला की मुलाकात दो साल पहले हरिद्वार के एक युवक से हुई थी जिसके बाद युवक उसे देहरादून ले आया था. जहां उस युवक ने कुछ पैसों की लालच में महिला का अन्य लोगो से दुष्कर्म करवाता रहा. मिली जानकारी के अनुसार महिला इससे पहले भी गर्भवती हो चुकी है और एक बच्चे को जन्म दे चुकी है। मामला तब संज्ञान में आया जब एक महिला उनको दून अस्पताल में लायी तो उक्त महिला ने बताया कि पीड़ित ने उसे अपनी सारी आपबीती बतायी जिसके बाद उक्त महिला उनको दून अस्पताल में एम्बुलेंस की मदद से एडमिट कर दिया गया.

महिला सिलाकुई में पुल के नीचे कराह रही थी

मामला देहरादून के सेलाकुई का है जहाँ मानसिक रूप से कमजोर एक विक्षिप्त महिला बार-बार रेप की शिकार हुई।जानकारी के अनुसार महिला सिलाकुई में पुल के नीचे कराह रही थी. जिसकी सूचना स्थानीय लोगों द्वारा एक एनजीओ संचालिका को दी गई. वहीं इसके बाद एक एनजीओ संचालिका पूजा बहुखंडी ने विक्षिप्त महिला को 108 एंबुलेंस की मदद से दून अस्पताल पहुंचाया। जहां विक्षिप्त महिला को लेबर रूम में ले जाया गया। अल्ट्रासाउंड जांच में विक्षिप्त महिला के गर्भ में शिशु पलने की बात सामने आई है। सवाल ये उठ रहे हैं कि आखिर विक्षिप्त महिला के साथ इस तरह का अपराध किसने किया है।

पूरे मामले का मास्टरमाइंड वो बाबा है-एनजीओ संचालिका

एनजीओ संचालिका की मानें तो इस पूरे मामले का मास्टरमाइंड वो बाबा है जिसके साथ यह महिला रहती है. पूजा का कहना है की बाबा को यह मामला जब पहले पता था तो उसने महिला के बचाव में कोई कदम क्यों नहीं उठाया .समाज सेविका पूजा का कहना है की पीड़िता से बातचीत में उन्हें यह भी पता चला है की इस बाबा के द्धारा उसे मारा पीटा भी जाता था और ये बात बाबा भी स्वीकार करता है लेकिन किस तरह से वो आपको दिखा रहे हैं।

एक बार नहीं बल्कि कई दफा हुआ रेप- एसएसपी

वहीं इस मामले पर एसएसपी निवेदिता कुकरेती का कहना है कि एनजीओ संचालिका ने बताया कि इस मामले की सूचना पुलिस को दी गई है जिसकी पुलिस छानबीन कर रही है, बातचीत में यह बात सामने आई है कि उसके साथ एक नहीं बल्कि कई दफा रेप हुआ है। जानकारी का संज्ञान लेने के बाद देहरादून की एसएसपी निवेदिता कुकरेती का कहना है की महिला दरोगा को पूरी जांच की ज़िम्मेदारी सौंपी गई है, पूरी जांच की जा रही है जिनका भी नाम सामने आ रहा है अगर वे संलिप्त पाये जाते हैं तो उन पर कार्रवाई की जायेगी।

पुलिस चौकी से मात्र 100 मीटर दूरी पर वारदात को दिया जा रहा था अंजाम

मामला बेहद संगीन है और मानवता को शर्मसार कर देने वाला है एक और एनजीओ संचालिका द्वारा महिला की मदद की जा रही है तो वहीं दूसरी ओर पुलिस पर भी कई सवाल खड़े हो रहे हैं पुलिस चौकी से मात्र 100 मीटर दूरी पर एक गर्भवती महिला से इतने लंबे समय से रेप की वारदात हो रही थी और अच्छे प्रशासन का दावा करने वाली मित्र पुलिस को इसकी खबर भी नही लगी,जो पुलिस पर सवाल खड़े करती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here