उत्तराखंड: शादी का झांसा देकर पुलिस कांस्टेबल ने कई बार किया रेप, गर्भपात भी कराया, व्हाट्सएप स्टेटस ने खोला राज

देहरादून: पौड़ी जिले की युवती ने उत्तराखण्ड पुलिस के कांस्टेबल मनीष भण्डारी पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उसने नेहरू काॅलोनी थाने में तहरीर दी है। उसका आरोप है कि उसकी को कॉन्स्टेबल मनीष से जान-पहचान थी। इस दौरा उनकी एक-दो बार मुलाकात भी हुई। 4 दिसंबर 2016 को उसने मुझे मिलने बुलाया। जब मैं उससे मिलने गई तो वह मुझे अपने साथ प्रिंस चौक के पास रेलवे स्टेशन के नजदीक स्थित होटल स्टैण्डर्ड में ले गया, जहां उसके द्वारा मुझसे बलात्कार किया गया। मैंने शिकायत करने की बात कही गई, जिस पर उसने नौकरी चले जाने की बात कहते हुए मेरे सामने रोने का नाटक किया।

उसका आरोप है कि उसने मेरे सामने शादी का प्रस्ताव रखते हुए मेरी मांग में सिंदूर भर दिया और कहा कि आज से तू मेरी पत्नी बन गई है। मैं तुझे जल्द ही अपने परिवारवालों से मिलवाने अपने घर हरिद्वार ले जाऊँगा और उनके सामने तुझसे शादी करूँगा। उसके द्वारा मुझसे शादी का वादा करने पर व भावनात्मक रूप से मुझे बरगलाया गया, जिससे मैं उसकी बातों में आ गई। उससे कई बार घर ले जाने की बात कही, लेकिन वो नहीं माना। हर बार कोई न कोई बहाना बनाकर मुझे टाल दिया जाता था। 25 फरवरी 2018 को उसके ताऊजी की बेटी की शादी में मुझे उसके साथ जौलीग्रांट साथ चलने को कहा, जहां उसके द्वारा मुझे अपने घरवालों से मिलवाने की बात कही। मेरे द्वारा उससे परिजनों से मिलने की सोच उसके साथ उसके ताऊ की बेटी की शादी में गयी जहां शादी समारोह में शामिल होने के बाद मेरे द्वारा उसे उसके परिजनों से मिलवाने की बात कही गई तो उसने कहा कि शादी में इस वक्त बहुत से मेहमान आये हैं, जिसके चलते मेरे माता-पिता से तुम्हें मिलवाना अभी सही नहीं है।

जिसके बाद वह मुझे अपने साथ वहीं के एक होटल में ले गया, जहां उसके द्वारा मुझसे फिर ये जबरन जबरदस्ती शारीरिक संबंध बनाये गये। इसके कुछ दिनों के पश्चात् उसने द्वारा मानेसर में एनएसजी कैम्प में ट्रेनिंग में जाने की बात मुझे बताते हुए जल्द ही वापिस आने की बात कही। उसके जाने के कुछ समय पश्चात् मुझे पता चला कि मैं गर्भवती हो गयी, जिस पर मेरे द्वारा उससे यह बात बताई गई तो उसने मुझे गर्भपात करवाने को कहा, लेकिन मैनें मना कर दिया।

उसने धमकी दी कि अर गर्भपात नहीं करवाएगी तो मैं सुसाइड कर लूँगा। उसके सुसाइड करने की बात से मैं बहुत डर गई । उसने कहा कि वह खुद नहीं आ सकता जिसके चलते वह अपने भाई विजेन्द्र के हाथों मेरे लिए गर्भपात की दवाई भेज रहा है। अगले दिन उसका भाई विजेन्द्र मुझसे मिलने आया और मुझे गर्भपात करने का कहते हुए धमकी दी कि तू मेरे भाई की जिन्दगी से चले जा। तू उससे बात करना बन्द करदे वरना तेरे लिए ठीक नहीं होगा। गर्भपात की दवाई खाने से इंकार किया गया जिसपर उसके द्वारा जबरन मुझे गर्भपात की दवाई खिलाई गयी।

11 मार्च 2018 को मनीष अपनी ट्रेनिंग से एक दिन की छुट्टी लेकर मुझसे मिलने देहरादून आया व मुझे अपने साथ हरिद्वार के एक अस्पताल में ले गया, जहां उसके द्वारा मेरे गर्भपात के विषय में एक अस्पताल में पहले से ही बात कर रखी थी। उसके द्वारा उस अस्पताल में मेरा जबरन गर्भपात करवाया गया। हरिद्वार में मेरा गर्भपात करवाने के अगले ही दिन वह वापिस अपनी ट्रेनिंग में चला गया। उसने फिर घर वालों से मिलवाने के बहाने घर बुलाया और जबरन रेप किया।

जुलाई 2020 में उसके द्वारा मुझे करनपुर स्थित अपने कमरे पर बुलाया गया जहां उसके द्वारा मुझसे जल्द ही घरवालों से मिलवाकर शादी करने का झांसा देकर मुझसे जबरन शारीरिक संबंध बनाये गये। जिसके कुछ समय बाद मैं पुनः गर्भवती हो गई। जिसकी जानकारी मैंने उसे दी। उसने मुझे उससे मिलने बुलाया और कहा कि तू इस बार भी गर्भपात करवा ले,मैं अभी कुछ नहीं कर सकता। अगर तू ऐसा नहीं करेगी तो मैं सुसाइड कर लूँगा जिसमें तू ही फंसेगी। जिसपर मेरे द्वारा उससे गर्भपात करवाने को साफ इंकार कर दिया गया और मुझे मेरे हाल पर छोड़ने की बात कहकर वहां से चली आयी। उसके कुछ दिन बाद उसने मुझसे मिलने आने को कहा।

मेरे द्वारा एक बार इससे मिलने इसके कमरे पर आने की इच्छा जतायी गई, जिसपर इसने कहा कि तू अभी मत आ। मैं हरिद्वार जा रहा। मेरा बस प्रमोशन हो ही गया है। मैं दरोगा बनने वाला हूँ। बस मेरी फिजीकल परीक्षा होनी है। कुछ दिनों बाद हमारी बातचीत के दौरान मैंने जब इससे पूछा कि तुम इतने दिन की छुट्टी लेकर हरिद्वार क्यों गये हो। जिसपर इसने उत्तर दिया कि वह दरोगा बन गया है और 24-25 अप्रैल को उसकी परेड होनी है। दिनांक 24 अप्रैल 2021 को उसने मुझे फोन किया तो उसने कहा कि मैं दरोगा बन गया हूँ और मेरी पोस्टिंग रूद्रपुर होने वाली है। मैं अब तुझे अपने साथ ले जाऊँगा। तू चिन्ता मत कर मैं 28 अप्रैल को आ रहा हूँ।

लेकिन, उससे पहले ही उसके भाई व बहन के व्हाट्सएप्प स्टेटस से पता चला कि उसने मुझे धोखे में रखते हुए किसी और से ही शादी कर ली है। मेरे द्वारा उसके तुरन्त बाद उसको सम्पर्क करना चाहा तो उसके द्वारा मेरा नम्बर ब्लॉक कर दिया गया। जिसके बाद मेरे द्वारा उसके पिताजी के नम्बर पर कॉल की गई तो उसने मुझे वहां भी ब्लॉक कर दिया। जिसपर मेरे द्वारा उसके पिताजी के नम्बर पर व्हाट्सएप्प कॉल कर मुझे धोखा देने के लिए पुलिस में शिकायत करने की बात की गई। जिसपर उसके द्वारा मुझे ऐसा करने पर उसके द्वारा सुसाइड करने की धमकी दी गई।

उसे ब्लॉक किये जाने के बाद उसके द्वारा कल रातभर मुझे अलग-अलग नम्बरों से लगातार फोन किये गये । उसके द्वारा मुझे धमकी दी जा रही है कि अगर तू पुलिस में मेरी शिकायत करेगी तो या तो मैं खुद मर जाऊँगा या तुझे मार दूंगा। महोदय मनीष भण्डारी द्वारा मेरी इच्छा के विरूद्ध कई बार मुझसे शारीरिक संबंध बनाये गये व जबरन मेरा गर्भपात करवाने का अपराध किया है। उसके द्वारा मुझसे शादी कर अपने घर ले जाने की बात कहकर किसी और से शादी करने से मेरा मानसिक शोषण किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here