उत्तराखंड : सिद्धबली और पूर्णागिरि एक्सप्रेस नामों को रेल मंत्रालय की मंजूरी, जल्द होगा संचालन

देहरादून: राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी जो भी काम शुरू करते हैं, उसे पूरा करने के बाद ही चैन की सांस लेते हैं। उत्तराखंड के विकास के लिए उन्होंने अपने अब तक के कार्यकाल के दौरान जो भी मुहिम शुरू की या जो भी घोषणा की, उसे पूरा भी कर दिखाया। अब उनकी एक और मुहिम पर मुहर लग गई है। उत्तराखंड से राज्यसभा सांसद और भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय मीडिया प्रमुख एवं मुख्य प्रवक्ता श्री अनिल बलूनी ने बताया कि उन्हें केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल उनके सुझाए गए नामों को रेल मंत्रालय ने संस्तुति दे दी है।

सांसद बलूनी ने रेल मंत्रालय से अनुरोध किया था कि कोटद्वार और टनकपुर से चलने वाली दोनों गाड़ियों के नाम स्थानीय भावनाओं, मान्यताओं और आस्थाओं के आधार पर रखे जाएं। उन्होंने कोटद्वार से चलने वाली ट्रेन का नाम ष्सिद्धबली जनशताब्दी एक्सप्रेसष् और टनकपुर से चलने वाली ट्रेन का नाम ष्पूर्णागिरि जनशताब्दी एक्सप्रेसष् रखने का अनुरोध रेल मंत्रालय से किया था। आज माननीय मंत्री जी द्वारा संसद में भेंट के दौरान सांसद बलूनी को बताया कि उक्त दोनों नाम मंत्रालय द्वारा स्वीकृत कर दिए गए हैं।

सांसद बलूनी ने कहा कि उनके अनुरोध पर रेल मंत्रालय ने कोटद्वार से नई दिल्ली और टनकपुर से नई दिल्ली तक उपरोक्त दो नई जनशताब्दी एक्सप्रेस ट्रेनों को चलाने की स्वीकृति दी है। वर्तमान में दोनों ट्रेनों के स्टॉपेज, रूट और टाइम टेबल पर तेजी से कार्य जारी है।

सांसद बलूनी ने कहा कि माननीय मंत्री ने एक और सुखद समाचार दिया कि मंत्रालय का प्रयास है कि इसी माह के अंत तक दोनों ट्रेनों का संचालन प्रारंभ कर दिया जाएगा, इस हेतु रेल मंत्रालय तेजी से कार्य कर रहा है। सांसद बलूनी ने माननीय मंत्री जी का आभार प्रकट किया कि उन्होंने जन भावनाओं के आधार पर उपरोक्त नामों को स्वीकृति दी और साथ ही ट्रेनों के संचालन हेतु भी त्वरित निर्देश जारी किए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here