उत्तराखंड पुलिस की महिला कांस्टेबल ने बनाई लापता जवान की तस्वीर, ईश्वर से की प्रार्थना

देहरादून : उत्तराखंड पुलिस की महिला सिपाही सुनीता नेगी की कला से हर कोई वाकिफ हैं। महिला सिपाही की हाथ की कला ऐसी है मानों किसी तस्वीर की फोटी कॉपी हमने निकाली हो। सुनीता नेगी अपनी पेंसिल आर्ट से ऐसी कलाकारी कागज पर उतार चुकी हैं जैसे मानों साक्षात वहीं इंसान या वस्तू सामने कागज पर रख दी हो. सुनीता की पेंटिंग सोशल मीडिया पर धूम मजा रही हैं और काफी शेयर की जा रही है।

वहीं एक बार फिर से उनकी देश को समर्पित एक पेंटिग काफी लाइक की जा रही है. जी हां सुनीता नेगी ने लापता सिपाही राजेंद्र नेगी की पेंसिल आर्ट के जरिए एक तस्वीर बनाई है जिसे शेयर कर सुनीता नेगी ने सिपाही के शीघ्र घर वापसी और वतन वापसी की ईश्वर से प्रार्थना की है।

पूरा उत्तराखंड कर रहा वतन वापसी की प्रार्थना

पूरा उत्तराखंड की जनता लापता सिपाही के वतन वापसी और घर देवभूमि वापसी की प्रार्थना कर रहा है। औऱ साथ ही सरकार पर दबाव बना रहा कि अभिनंदन की तरह राजेंद्र को भी वतन वापस लाया जाए. बता दें कि जवान जम्मू के गुलमर्ग में तैनात थे और पोस्ट से 9 जनवरी से लापता हैं। खबर सामने आई थी कि वो बर्फ में फिसलकर पाक जा पहुंचे हैं। जवान के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। पिता को आस है कि उनका बेटा जल्द वापस आ जाएगा, जवान के बच्चे पिता की चौखट पर बैठे राह देख रहे हैं लेकिन सरकार ने अभी तक कोई महत्वपू्र्ण कदम नहीं उठाया है।

देहरादून पुलिस मुख्यालय में तैनात है महिला सिपाही

बता दें कि महिला सिपाही देहरादून पुलिस मुख्यालय में तैनात हैं। जो की ड्यूटी से समय निकालकर अपनी हाथ की कला अजमाती हैं और अपनी पेंटिल सोशल मीडिया पर शेयर करती हैं. अभी तक सुनीता पहाड़ों का दर्द अपनी पेंटिंग के जरिए बयां कर चुकी हैं साथ ही पीएम मोदी, सीएम त्रिवेंद्र रावत समेत कई दिग्गजों और पुलिस अधिकारियों की तस्वीर बना चुकी हैं।

सुुनीता की पोस्ट

महिला सिपाही सुनीता ने लिखा कि 11वीं गढ़वाल राइफल्स में हवलदार के पद पर तैनात एवं राज्य के चमोली जिले के पजियाणा गांव निवासी राजेंद्र सिंह नेगी बीते 9 जनवरी को बर्फ में फिसलकर लापता हो गए थे और तब से उनकी कोई खबर नहीं है। राजेंद्र सिंह जी के लिए हम सभी ईश्वर से प्रार्थना करते हैं कि वे जहां भी होगें शीघ्र ही अपने घर आ जायेंगे, आपके परिजन, पूरा उत्तराखंड और हमारा देश आपका इंतजार कर रहा है। आप सभी से निवेदन है पोस्ट ज्यादा से ज्यादा शेयर करें।
कभी ठण्ड में ठिठुर कर देख लेना,
कभी तप्ती धूप में जल कर देख लेना,
कैसे होती है हिफाज़त मुल्क की..
कभी सरहद पर चल कर देख लेना।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here