उत्तराखंड के शिक्षा मंत्री और 3 विधायकों समेत 16 के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी, कोर्ट में हुए पेश

ऊधमसिंह नगर : उत्तराखंड के शिक्षा मंत्री अरविंद पाण्डेय और 3 विधायकों समेत 16 के खिलाफ न्यायालय ने गिरफ्तारी वारंट जारी किया था जिसके शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे आज सिविल जज सीनियर डिवीजन के न्यायालय में पेश हुए।

आपको बता दें कि शिक्षा मंत्री के विरुद्ध शाल 2015 में ऊधम सिंह नगर जिले के गदरपुर में एक मुकदमा कायम हुआ था। जो चक्का जाम के साथ ही तहसीलदार के साथ मारपीट करने का था।इसमे शिक्षा मंत्री पाण्डेय सहित 4 विधायकों समेत 16 लोगों को आरोपी बनाया गया था। इसमे पूर्व सांसद बलराज पासी, काशीपुर विधायक हरभजन सिंह चीमा, गदरपुर विधायक (अब शिक्षा मंत्री) अरविंद पांडेय, रुद्रपुर विधायक राजकुमार ठुकराल, आदेश चौहान (अब जसपुर विधायक), खिलेंद्र चौधरी, अजय कुमार, सीमा चौहान, शीतल जोशी समेत 15 लोगों को नामजद करते हुए अन्य के खिलाफ सरकारी कामकाज में बाधा डालने और धार्मिक उन्माद फैलाने के आरोप में केस दर्ज किया था।

इस मामले में शिक्षा मंत्री अरविंद पाण्डेय के विरुद्ध आईपीसी की धारा 147,186, 341 और 7 क्रिमिनल लॉ एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था। लेकिन उनके न्यायालय में पेश न होने पर उनके विरुद्ध गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया था। आज अरविंद पांडेय इसी मामले में कोर्ट में पेश हुए।

अरविंद पांडेय के अधिवक्ता चरणजीत सिंह का कहना है कि इस मामले में वारंट जारी किया गया था। उसे रिकॉल कराने के लिए मंत्री जी न्यायालय में पेश हुए है। कोरोना काल मे मंत्री जी पेश नही हो सके थे। वहीं शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय का कहना है कि वो जनहित के मुद्दे पर विपक्ष में रहते आंदोलन कर रहे थे । न्यायालय का सम्मान करते हुए सम्मन जारी होने पर वो न्यायालय में पेश नही हो सके थे। आज वो न्यायालय में पेश हो रहे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here